कर्नाटक: इस्तीफा नहीं देने पर स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकती है बीजेपी

विधायक ने कहा, हमारा पहला एजेंडा विश्वास प्रस्ताव को जीतना है और सोमवार को वित्त विधेयक पारित कराना है.

भाषा
Updated: July 27, 2019, 4:49 PM IST
कर्नाटक: इस्तीफा नहीं देने पर स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकती है बीजेपी
कर्नाटक में सत्ता में आने के एक दिन बाद ही भाजपा विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है. (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 27, 2019, 4:49 PM IST
कर्नाटक में सत्ता में आने के एक दिन बाद ही भाजपा विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है. पार्टी सूत्रों ने शनिवार को कहा कि अगर वह अपनी इच्छा से इस्तीफा नहीं देते हैं, तो पार्टी यह कदम उठा सकती है. उन्होंने बताया कि रमेश कुमार को पद छोड़ने के लिए सरकार की तरफ से साफ संदेश दे दिया गया है, जिसपर परंपरागत रूप से सत्ताधारी पार्टी के सदस्य आसीन होते रहे हैं.

सत्तारूढ़ भाजपा के एक विधायक ने पीटीआई-भाषा को नाम न बताने की शर्त पर कहा, अगर वह खुद इस्तीफा नहीं देते हैं तो हम अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे. विधायक ने कहा, हमारा पहला एजेंडा विश्वास प्रस्ताव को जीतना है और सोमवार को वित्त विधेयक पारित कराना है. हम इंतजार करेंगे और देखेंगे कि विधानसभा अध्यक्ष अपनी मर्जी से इस्तीफा देते हैं या नहीं.

अविश्वास प्रस्ताव लाने पर होगा काम
विधायक ने सवाल किया कि विपक्षी पार्टी से कोई अध्यक्ष कैसे हो सकता है. उन्होंने कहा, एक बार जब हम सदन का विश्वास जीत लेते हैं, तो उसके बाद हम अविश्वास प्रस्ताव लाने पर काम करेंगे.



खत्म नहीं हुआ है कर्नाटक का सियासी संकट
वहीं बता दें कर्नाटक की राजनीति में मचा घमासान मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के शपथ लेने के बाद भी कम नहीं होता दिख रहा है. कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन के नेता भले ही कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार गिराने के लिए बीजेपी को दोषी ठहरा रहे हों, लेकिन अब खबर है कि जेडीएस विधायकों ने एचडी कुमारस्वामी से बीजेपी को समर्थन करने की अपील की है.
Loading...

येदियुरप्पा ने ली चौथी बार सीएम पद की शपथ
कर्नाटक में करीब तीन हफ्ते तक चले एक राजनीतिक घटनाक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेता बीएस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. उनके सामने सबसे बड़ी चुनौती अपने पक्ष में आंकड़े जुटाने की है. शपथ ग्रहण करने के बाद येदियुरप्पा ने कहा कि हम 29 जुलाई को विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव रखेंगे.

हफ्तों चले राजनीतिक ड्रामा और कानूनी लड़ाई के बाद उन्होंने शपथ ग्रहण की. राज्य में कांग्रेस और जेडीएस के 15 बागी विधायकों के इस्तीफे के बाद मंगलवार को गठबंधन की सरकार गिर गई थी.

ये भी पढ़ें-
कर्नाटक में BJP सरकार का समर्थन करेगी JDS?

CM बनते ही किसानों पर मेहरबान हुए येदियुरप्‍पा, दिया तोहफा

 

 
First published: July 27, 2019, 4:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...