केंद्र सरकार पर बरसीं ममता बनर्जी, बोलीं- कृषि बिल पारित करवाने के लिए BJP ने लिया हिंसा का सहारा

CM ममता बनर्जी का फाइल फोटो
CM ममता बनर्जी का फाइल फोटो

Agriculture bills 2020: ममता बनर्जी ने कहा, केंद्र सरकार ने किसानों के लिए कीमतों को विनियमित करने के लिए राज्यों की शक्ति को इस विधेयक के जरिए छीन लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2020, 10:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राज्यसभा (Rajya sabha) से भी कृषि विधेयकों (Agricultural bills) के पारित होने के बाद सांसदों का हंगामा अब भी जारी है. कांग्रेस (Congress), तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) समेत लगभग सभी विपक्षी दल कृषि विधेयक पर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल चुके हैं. इसी बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी (West Bengal CM Mamata Banerjee) ने केंद्र सरकार को निशाना बनाया है. ममता बनर्जी ने कहा, जब संसदीय नियमों के अनुसार एक विभाजन के लिए कहा गया था, तो कम सदस्य होने के कारण बीजेपी ने कृषि बिलों को पारित करने के लिए हिंसा का सहारा लिया.

ममता बनर्जी ने कहा, केंद्र सरकार ने किसानों के लिए कीमतों को विनियमित करने के लिए राज्यों की शक्ति को इस विधेयक के जरिए छीन लिया.






8 सांसदों के निलंबन पर जाहिर किया गुस्सा
राज्यसभा में हंगामे के बाद 8 सांसदों को निलंबित किए जाने पर भी ममता बनर्जी ने गुस्सा जाहिर किया है. ममता ने बीजेपी पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि वह संसद और सड़क दोनों जगह फासीवादी सरकार से लड़ेंगी.किसानों के हित के लिए लडऩे वाले आठ सांसदों को निलंबित किया जाना दुखद है और यह इस सरकार की निरंकुश मानसिकता को दर्शाता है जो लोकतांत्रिक सिद्धांतों एवं नियमों में विश्वास नहीं रखती.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज