लाइव टीवी

BJP सांसद अनंत हेगड़े का बापू पर अपमानजनक बयान, कहा- महात्मा गांधी का स्वतंत्रता संग्राम सिर्फ ड्रामा था

एएनआई
Updated: February 3, 2020, 2:22 PM IST
BJP सांसद अनंत हेगड़े का बापू पर अपमानजनक बयान, कहा- महात्मा गांधी का स्वतंत्रता संग्राम सिर्फ ड्रामा था
अनंत कुमार हेगड़े कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ से लोकसभा सांसद हैं.

बीजेपी सांसद (BJP MP) अनंत कुमार हेगड़े (Anantkumar Hegde) ने कहा, 'जब मैं इतिहास पढ़ता हूं तो गुस्से से मेरा खून खौलने लगता है. देश को लेकर ऐसे नाटक करने वाले महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) जैसे लोग हमारे देश में महात्मा हो गए. ऐसा कैसे हो सकता है?'

  • Share this:
बेंगलुरु. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े (Anantkumar Hegde) एक बार फिर से सुर्खियों में हैं. उन्होंने इस बार महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को लेकर विवादास्पद बयान दिया है. हेगड़े ने गांधी के नेतृत्व में हुए भारत के स्वतंत्रता आंदोलन को एक नाटक करार दिया. यही नहीं, बीजेपी सांसद ने गांधी के 'महात्मा' कहलाने पर भी सवाल उठाए हैं.

बीजेपी सांसद अनंत कुमार हेगड़े ने शनिवार को कर्नाटक के बेंगलुरु में एक जनसभा के दौरान ये बातें कहीं. कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ से लोकसभा सांसद ने इस दौरान भारत के स्वतंत्रता संग्राम का जिक्र किया. उन्होंने कहा, 'पूरा स्वतंत्रता संग्राम ब्रिटिश सरकार की अनुमति और समर्थन से रचा गया था. आजादी के आंदोलन के दौरान तथाकथित नेताओं में से किसी ने एक बार भी पुलिस की मार नहीं खाई थी. एक बार भी नहीं. गांधी का स्वतंत्रता संग्राम महज एक बड़ा ड्रामा था.'

हेगड़े इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा, 'असल में भारत का स्वतंत्रता संग्राम वास्तविक लड़ाई नहीं थी. यह सामंजस्य के आधार पर रचा गया स्वतंत्रता संग्राम था.


गांधी का उपवास और सत्याग्रह नाटक था



अनंत कुमार हेगड़े ने महात्मा गांधी के उपवास और सत्याग्रह को भी नाटक बताया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के समर्थक कहते हैं कि आमरण अनशन और सत्याग्रह से भारत को आजादी मिली. यह सही नहीं है. उन्होंने कहा कि अंग्रेजों ने सत्याग्रह के चलते देश नहीं छोड़ा था. अंग्रेजों ने निराश होकर भारत छोड़ा था.


इतिहास पढ़ता हूं तो आता है गुस्सा
हेगड़े ने कहा, 'जब मैं इतिहास पढ़ता हूं तो गुस्से से मेरा खून खौलने लगता है. देश को लेकर ऐसे नाटक करने वाले गांधी जैसे लोग हमारे देश में महात्मा हो गए. ऐसा कैसे हो सकता है?'

ये भी पढ़ें:- महात्मा गांधी की हत्या के बाद कैसा बीता उनके चारों बेटों का जीवन

लड़कियों जैसी हुई थी गोडसे की परवरिश, नथ पहनने के चलते नाम पड़ा नाथूराम

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 7:46 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर