अपना शहर चुनें

States

'तांडव' वेब सीरीज को बैन करने की मांग, BJP सांसद ने लिखा- उड़ाया हिंदू देवी-देवताओं का मजाक

सैफ अली खान की तांडव का एक दृश्य
सैफ अली खान की तांडव का एक दृश्य

मनोज कोटक (Manoj Kotak) ने लिखा 'ओटीटी प्लेटफॉर्म्स (OTT Platforms) चल रहे प्रोग्राम सेक्स, हिंसा, ड्रग्स, नफरत और अश्लीलता से भरे हुए हैं. कभी-कभी ये हिंदुओं और धार्मिक भावनाओं को ठेस भी पहुंचाते हैं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2021, 3:57 PM IST
  • Share this:
मुंबई. हाल ही में रिलीज हुई वेब सीरीज 'तांडव' (Tandav) विवादों के घेरे में आ गई है. महाराष्ट्र (Maharashtra) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद मनोज कोटक ने सीरीज को बैन करने की मांग की है. उन्होंने इसके संबंध में सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) को पत्र लिखा है. इस पत्र के जरिए उन्होंने सीरीज में हिंदू और धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप लगाए हैं. तांडव हाल ही में ओवर द टॉप प्लेटफॉर्म प्राइम वीडियो (Prime Video) पर रिलीज हुई है.

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को लिखे अपने पत्र में राजनेता कोटक ने कहा है 'मैंने और देशभर के  कई लोगों ने यह पाया है कि हाल ही में ओटीटी पर रिलीज हुई वेब सीरीज तांडव में ऐसा लगता है कि निर्माताओं ने जानबूझकर हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया है.' उन्होंने आरोप लगाए हैं कि मेकर्स ने हिंदू धार्मिक भावनाओं को आहत किया है. उन्होंने कहा 'मैं सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से तत्काल रूप से ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर रेग्युलेटरी अथॉरिटी बनाने और विवादन वेब सीरीज तांडव पर बैन लगाने की मांग करता हूं.'






इसके अलावा भी उन्होंने ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर चल रहे कंटेंट को लेकर भी सवालिया निशान लगाए हैं. उन्होंने कहा 'ऐसा महसूस होने लगा है कि आजकल ओटीटी प्लेटफॉर्म काफी ज्यादा पॉपुलर हो गए हैं. खासतौर से युवाओं के बीच. यह प्लेटफॉर्म सभी तरह की सेंसर अथॉरिटी से मुक्त हैं और आजादी की आड़ में यह इसका गलत फायदा उठा रहा है. इस पत्र में उन्होंने डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को रेग्युलेट करने की मांग की है.'

उन्होंने लिखा 'ओटीटी प्लेटफॉर्म्स चल रहे प्रोग्राम सेक्स, हिंसा, ड्रग्स, नफरत और अश्लीलता से भरे हुए हैं. कभी-कभी ये हिंदुओं और धार्मिक भावनाओं को ठेस भी पहुंचाते हैं.' गौरतलब है कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स और डिजिटल कंटेंट के संबंध में कानून लाने पर लंबे समय से बहस की जा रही है. हाल ही में मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि सरकार कानून लाने की तैयारी कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज