राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बोले अमित शाह- 5 नहीं 50 साल के लिए सत्ता में आई है BJP

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी अपने संबोधन में 2019 में जीत का भरोसा जताया है. उन्होंने कहा कि 19 को हम जीतेंगे और उसके बाद 50 साल तक हमें कोई नहीं हटा पाएगा.

News18Hindi
Updated: September 9, 2018, 8:18 PM IST
राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बोले अमित शाह- 5 नहीं 50 साल के लिए सत्ता में आई है BJP
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह
News18Hindi
Updated: September 9, 2018, 8:18 PM IST
भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है. चुनावी रणनीतियों पर चर्चा करने के लिए बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने दो दिनों की अहम बैठक की. को इस बैठक के दूसरे और आखिरी दिन रविवार को पार्टी का 'विजन 2022' पेश किया गया. फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी राष्ट्रीय अमित शाह ने कार्यकारिणी को संबोधित किया. इस दौरान शाह ने कहा, 'बीजेपी 5-10 नहीं, बल्कि 50 साल के लिए सत्ता में आई है. यह भावना हर कार्यकर्ता के अंदर होनी चाहिए. अगले 50 सालों तक हमें कोई हरा नहीं सकता.'

PM मोदी ने 'अजेय भारत, अजेय भाजपा' पर दिया जोर, कहा- महागठबंधन से कोई खतरा नहीं

कार्यकारिणी बैठक खत्म होने के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी और अमित शाह के भाषणों की मुख्य बातों को बताया. रविशंकर प्रसाद ने बताया कि बैठक में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने पदाधिकारियों से अगले चुनावों की तैयारियों में और तेजी लाने को कहा है. रविशंकर प्रसाद ने बताया कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी अपने संबोधन में 2019 में जीत का भरोसा जताया है. उन्होंने कहा कि 19 को हम जीतेंगे और उसके बाद 50 साल तक हमें कोई नहीं हटा पाएगा.

बीजेपी की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से गायब रहे ये बड़े नेता

केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने बताया, 'बैठक में शाह ने कहा कि 2014 के बाद पार्टी के लोगों ने बिल्कुल आराम नहीं किया. प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने देश के 300 लोकसभा क्षेत्रों में यात्रा की है. चुनाव के दौरों को छोड़ दें तो वे 100 जिलों में गए हैं. ऐसे में पार्टी की योजना है पीएम 500 जिलों में दौरा करके आएं. इस तरह हम 2019 जीतेंगे.'



प्रसाद ने बताया, 'बैठक में अमित शाह ने कहा कि विपक्ष बीजेपी के खिलाफ चाहे कितना भी दुष्प्रचार करे, लेकिन हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विकास के मार्ग पर अनवरत चलते रहेंगे और विकास के प्रति हमारा संकल्प और दृढ़ होगा. अजय भारत- अटल बीजेपी के मंत्र के साथ 2019 में पिछली बार से भी अधिक बहुमत के साथ जीत हासिल करेंगे.'

केंद्रीय मंत्री ने बताया, 'अमित शाह ने कहा है कि 15 तारीख को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को काव्यांजलि दी जाएगी. उसके बाद पूरे हफ्ते सेवांजलि के जरिए हम लोगों से मिलेंगे. गांधी जयंती पर भी बड़े कार्यक्रम होंगे. 150 कार्यकर्ताओं की टोली 10-10 किलोमीटर चले और किसानों को अपना काम बताएंगे. 22 करोड़ परिवारों से हमें संपर्क करना है. हमारे 9 करोड़ कार्यकर्ताओं का कॉर्पस हमारे पास है. जिनकी सभी डीटेल हमारे पास हैं.'

कांग्रेस को मिला राज ठाकरे का साथ, मोदी सरकार के खिलाफ भारत बंद का समर्थन करेगी MNS



बता दें कि अगले साल होने वाले चुनावों को देखते हुए बीजेपी में संगठन के चुनाव टाल दिए गए हैं. ऐसे में अमित शाह की अध्यक्षता में ही बीजेपी अगला लोकसभा चुनाव लड़ेगी. बतौर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का कार्यकाल जनवरी 2019 में खत्म हो रहा था. लेकिन, अप्रैल-मई में होने वाले चुनावों के मद्देनज़र पार्टी ने उनका कार्यकाल एक साल बढ़ा दिया.



इससे पहले शनिवार को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अमित शाह ने एसएसी-एसटी एक्ट को लेकर हो रहे राजनीतिक उबाल पर अपनी राय रखी थी. बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने बीजेपी के पदाधिकारियों की बैठक में कहा, 'एससी/एसटी के मुद्दे को लेकर भ्रम पैदा करने की कोशिश की गई, लेकिन इससे 201 9 के चुनावों पर कोई असर नहीं पड़ेगा.'

अमित शाह ने कहा था कि हमारे पास दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता हैं. हमें पिछले चुनाव से ज्यादा सीटों से जीतना है. शाह ने कहा कि 4 राज्यों के विधानसभा चुनाव के अलावा तेलंगाना पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर