अपना शहर चुनें

States

हैदराबाद में ओवैसी को पछाड़ BJP दूसरे नंबर पर पहुंची, अमित शाह ने कहा-शुक्रिया

हैदराबाद के पिछले चुनावों में बीजेपी को सिर्फ 4 सीटें मिली थीं. फोटो: @AmitShah
हैदराबाद के पिछले चुनावों में बीजेपी को सिर्फ 4 सीटें मिली थीं. फोटो: @AmitShah

BJP in GHMC Election Results 2020: इन चुनावों में प्रभावशाली प्रदर्शन से भाजपा का मनोबल और बढ़ गया है. इससे पहले, पिछले महीने दुब्बक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भी पार्टी को जीत हासिल हुई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2020, 11:46 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद: तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) में सत्ता बरकरार रख सकती है, लेकिन उसे स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है. भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया है. टीआरएस 150 में से 55 सीटें मिली हैं. वहीं बीजेपी 48 सीटों पर जीतमिली है. पिछले चुनावों में बीजेपी के पास इस नगर निगम में सिर्फ 4 सीटें थीं. ओवैसी की पार्टी इस बार तीसरे नंबर पर खिसक गई है. वह पिछले चुनावों में 44 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर थी.

एक दिसंबर को हुए जीएचएमसी चुनाव की मतगणना के अनुसार असदुद्दीन औवेसी (Asaduddin Owaisi ) की पार्टी एआईएमआईएम अपने गढ़ पुराने हैदराबाद में 34 सीटें जीतकर दबदबा बनाए हुए है. वहीं कांग्रेस मात्र दो सीटें जीतकर चौथे स्थान पर है. भाजपा ने 2016 के चुनाव के मुकाबले शानदार प्रदर्शन किया है, जिसमें उसे तेलुगुदेशम पार्टी (तेदेपा) के साथ गठबंधन करके चार सीटों पर जीत हासिल हुई थी. पिछले चुनाव में चंद्रशेखर राव नीत तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने 150 वार्डों में से 90 में जीत हासिल की थी.

इन चुनावों में बीजेपी के प्रदर्शन से पार्टी के नेता काफी खुश हैं. नतीजों के ऐलान के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, पीएम नरेंद्र मोदी पर विश्वास जताने के लिए तेलंगाना की जनता का आभार, भाजपा ने विकास की राजनीति की अगुवाई की.





इन चुनावों में प्रभावशाली प्रदर्शन से भाजपा का मनोबल और बढ़ गया है. इससे पहले, पिछले महीने दुब्बक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भी पार्टी को जीत हासिल हुई थी. मंगलवार को हुए जीएचएमसी चुनाव में मतपत्रों का इस्तेमाल किया गया था. मतगणना सुबह आठ बजे शुरू हुई और पहले डाक मतपत्रों की गिनती की गई. भाजपा डाक मतपत्रों की गिनती में अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे चल रही थी. हालांकि चुनाव के दौरान केवल 46.55 प्रतिशत मतदान हुआ था. कुल 74.67 लाख में से केवल 34.50 लाख मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया था.

टीआरएस ने सभी 150 सीटों पर जबकि भाजपा ने 149 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे. वहीं कांग्रेस ने 146, एआईएमआईएम ने 51, तथा तेदेपा ने 106 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज