लोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी का 'मोदी लहर' तो कांग्रेस का बेरोजगारी पर दांव

लोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी का 'मोदी लहर' तो कांग्रेस का बेरोजगारी पर दांव
बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह और उनकी पत्‍नी सोनल शाह ने अहमदाबाद में वोट डाला.

गुजरात में सुबह 7 से 9 के बीच हुआ 12-14 फीसदी मतदान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने अहमदाबाद में डाला वोट.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2019, 11:41 AM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
गुजरात की 26 लोकसभा सीट और 4 विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू हो चुका है. मतदान के शुरुआती दो घंटों में 12 से 14 फीसदी मतदान हो चुका है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह अहमदाबाद में वोट डाल चुके हैं. मोदी और शाह का गृहराज्‍य होने के कारण गुजरात का रण जीतना बीजेपी के लिए अहम है. लोकसभा चुनाव 2014 में राज्‍य में कुल 63.66 फीसदी मतदान हुआ था.

लोकसभा चुनाव 2014 में बीजेपी ने गुजरात की सभी 26 सीटों पर जीत दर्ज की थी. पार्टी का दावा है कि इस बार भी बीजेपी ही राज्‍य की सभी सीटें जीतेगी और नरेंद्र मोदी फिर पीएम बनेंगे. गुजरात में इस बार बीजेपी ने 'मोदी लहर' की वापसी तो कांग्रेस ने ग्रामीण क्षेत्रों की दुर्दशा, फसलों के एमएसपी, बेरोजगारी, नोटबंदी और जीएसटी पर दांव खेला है.

गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान मोदी ने बार-बार 'गुजरात के बेटे' को दोबारा पीएम बनाने की अपील की. वहीं, बीजेपी ने सभी सीटें जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाया है. मोदी ने गुजरात में जीत का इतिहास दोहराने के लिए खुद सात रैलियां कीं. वहीं, गांधीनगर सीट पर लालकृष्‍ण आडवाणी की जगह पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह को उतारा गया.



ये भी पढ़ें: तीसरे चरण में ये हैं VIP सीटें, शाह-राहुल समेत इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर



कांटे की टक्‍कर वाली सीटों पर टिकी हैं निगाहें

गुजरात में भाजपा-कांग्रेस के बीच कांटे की टक्‍कर वाली अहम सीटों पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं. माना जा रहा है कि सुरेंद्रनगर, जूनागढ़, जामनगर, अमरेली, बनासकांठा, पाटन, मेहसाणा, छोटा उदयपुर, वलसाण, बारडोली, दाहोद और कच्‍छ लोकसभा सीट पर बीजेपी-कांग्रेस में कड़ी टक्‍कर होगी. कांग्रेस ने अमरेली सीट पर बीजेपी के मौजूदा सांसद नारन कछाडि़या के मुकाबले गुजरात विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष परेश धनानी को उतारा है. वह कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के करीबी भी माने जाते हैं.

ये भी पढ़ें: वोटिंग से पहले मां से मिले मोदी, आशीर्वाद में मिली इस मंदिर की चुनरी और ये चीजें

आणंद से मैदान में हैं भरत सिंह सोलंकी 

आणंद लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने पूर्व मुख्‍यमंत्री माधव सिंह सोलंकी के बेटे भरत सिंह सोलंकी को प्रत्‍याशी बनाया है. सोलंकी इस सीट से 2004 और 2009 में संसद जा चुके हैं. 2014 लोकसभा चुनाव में वह बीजेपी के दिलीप पटेल के मुकाबले 63,426 मतों से हार गए थे. आणंद संसदीय क्षेत्र में सात विधानसभा सीट हैं. 2017 विधानसभा चुनाव में पांच पर कांग्रेस, जबकि दो सीट पर बीजेपी को जीत मिली थी.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी बोले- आतंकियों की IED से ज्यादा ताकतवर है वोटर ID

बारडोली से ताल ठोक रहेे हैं तुषार चौधरी

बारडोली में पूर्व मुख्‍यमंत्री अमर सिंह चौधरी के बेटे और कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता तुषार चौधरी ताल ठोक रहे हैं. तुषार मनमोहन सिंह सरकार में राज्‍यमंत्री रहे चुके हैं. उत्‍तरी गुजरात के साबरकांठा लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी के मौजूदा सांसद दीप सिंह राठौड़ को कांग्रेस के विधायक राजेंद्र ठाकोर चुनौती दे रहे हैं. यह लोकसभा क्षेत्र ठाकोर, पटेल, क्षत्रिय और आदिवासी बहुल है. इस संसदीय क्षेत्र में पड़ने वाली सात विधानसभा सीट में से कांग्रेस के पास चार, जबकि बीजेपी के पास तीन हैं.

ये भी पढ़ें: 'मायावती बनेंगी पीएम' के सवाल पर बोले रामगोपाल यादव- 'मुझे मूर्ख समझ रखा है क्या?'

हार्दिक और अल्‍पेश कितना दिखा पाएंगे दम

पाटीदार आंदोलन के अगुआ हार्दिक पटेल लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हो गए थे. कांग्रेस ने उन्‍हें अपना स्‍टार प्रचारक भी बनाया था. यहां तक कि उनके लिए हेलीकॉप्‍टर की व्‍यवस्‍था भी की गई थी. वहीं, कांग्रेस को झटका देते हुए विधायक अल्‍पेश ठाकोर ने पार्टी से नाता तोड़ लिया था. अब वह अपने समर्थकों से कांग्रेस को हराने की अपील कर रहे हैं. यह देखना दिलचस्‍प होगा कि उनकी अपील का मतदाताओं पर कितना असर होता है. सियासी पंडितों का मानना है कि ठाकोर बहुल बनासकांठा, पाटन और साबरकांठा सीट पर उनकी अपील का खासा असर पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2019: केरल में कांग्रेस और लेफ्ट के लिए चिंता का कारण बन सकती है बीजेपी!

कई कांग्रेस विधायक कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए

आम चुनाव से कुछ समय पहले ही कांग्रेस विधायक जवाहर चावड़ा, पुरुषोत्‍तम साबरिया, वल्‍लभ धाराविया और आशाबेन पटेल बीजेपी में शामिल हो गईं. अब जवाहर चावड़ा, पुरुषोत्‍तम साबरिया और आशाबेन पटेल अपनी पुरानी सीटों पर उपचुनाव में बीजेपी के टिकट पर मैदान में हैं. बीजेपी ने जामनगर ग्रामीण सीट पर राघवजी पटेल को उतारा है.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2019 Live Updates: मुरादाबाद में साइकिल का बटन दबाने की अपील, BJP कार्यकर्ताओं ने चुनाव अधिकारी को पीटा
First published: April 23, 2019, 11:41 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading