अपना शहर चुनें

States

निकाय चुनावः हैदराबाद में जेपी नड्डा का रोड शो, 29 नवंबर को अमित शाह करेंगे प्रचार

जेपी नड्डा के अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और अमित शाह भी हैदराबाद चुनाव प्रचार के लिए जाएंगे. फोटो-ANI
जेपी नड्डा के अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और अमित शाह भी हैदराबाद चुनाव प्रचार के लिए जाएंगे. फोटो-ANI

ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन (GHMC) के चुनाव में जेपी नड्डा (JP Nadda) के साथ योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और अमित शाह (Amit Shah) भी प्रचार करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2020, 11:29 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने शुक्रवार को हैदराबाद म्यूनिसिपल चुनाव (Hyderabad Municipal Election) में रोड शो किया. नड्डा ने नगोले चौरास्ता से कोठापेट चौरास्ता तक रोड शो निकाला. ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन के चुनाव 1 दिसंबर को होंगे. बीजेपी ने इस म्यूनिसिपल चुनाव में पूरी ताकत झोंक रखी है. पार्टी के कई बड़े नेताओं के भी चुनाव प्रचार में उतरने की संभावना है. जेपी नड्डा के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) भी हैदराबाद चुनाव प्रचार के लिए जाएंगे. योगी मल्कानगिरी और हैदराबाद संसदीय क्षेत्र में प्रचार करेंगे. इसके बाद 28 नवंबर को एक बार फिर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा हैदराबाद में प्रचार की कमान संभालेंगे. चुनाव प्रचार के आखिरी दिन यानी 29 नवंबर को गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) चुनाव प्रचार में उतरेंगे.

अमित शाह सिकंदराबाद में रोड शो करेंगे. इन नेताओं के अलावा साध्वी निरंजन ज्योति भी बीजेपी के लिए प्रचार करने हैदराबाद पहुंचेंगी. ये देखना बेहद दिलचस्प होगा जब अमित शाह और योगी आदित्यनाथ असदुद्दीन ओवैसी के गढ़ में चुनाव प्रचार करेंगे, क्योंकि पिछले कुछ दिनों से ओवैसी और बीजेपी नेताओं के बीच लगातार वार-पलटवार के साथ जुबानी जंग चल रही है.

इससे पहले आगामी ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन (GHMC Election) के चुनावों में बेंगलुरु (दक्षिण) से बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या (Tejasvi Surya) और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के बीच भयंकर जुबानी जंग चली है.





तेजस्वी सूर्या ने ऑल इंडिया मजलिसे ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के सांसद ओवैसी को 'आधुनिक जमाने का मोहम्मद अली जिन्ना' करार दिया और कहा कि उनकी कोशिश हैदराबाद को 'पाकिस्तान का हैदराबाद' बनाने की है. बीजेपी सांसद सूर्या ने आरोप लगाया कि ओवैसी पाकिस्तानियों, बांग्लादेशियों और रोहिंग्याओं के वोट पर निर्भर हैं, जो पुराने हैदराबाद शहर में अवैध तरीके से रहते हैं.

तेजस्वी सूर्या के आरोपों पर पलटवार करते हुए ओवैसी ने कहा कि बीजेपी 24 घंटे के भीतर लिस्ट जारी कर बताएं कि कौन और कितने लोग 'अवैध' तरीके से रह रहे हैं. एक सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि इन लोगों को बिरयानी खिलाने की जरूरत हैं, ताकि ये लोग होश में आ सकें.

अपनी हर प्रचार सभा में हैदराबाद के सांसद ओवैसी पुराने शहर के वोटरों को समझाते हैं कि बीजेपी के चक्रव्यूह में ना फंसे और एआईएमआईएम को वोट करें ताकि उनका हित सुरक्षित रहे.

हैदराबाद निकाय चुनावों में बीजेपी की कोशिश हिंदू बहुल वार्डों में अपनी पैठ बनाने की है. उसकी नजर कांग्रेस और तेलंगाना की सत्ता में काबिज टीआरएस के वोटों पर है. लेकिन, बीजेपी का धुआंधार चुनावी अभियान वोटों का ध्रुवीकरण कर सकता है, जिसका फायदा ओवैसी को अपने गढ़ में मिल सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज