लाइव टीवी

भारत बचाओ रैली में राहुल गांधी ने कहा- मेरा नाम सावरकर नहीं, बीजेपी का तंज- जिन्‍ना रख लें

News18Hindi
Updated: December 14, 2019, 6:15 PM IST
भारत बचाओ रैली में राहुल गांधी ने कहा- मेरा नाम सावरकर नहीं, बीजेपी का तंज- जिन्‍ना रख लें
राहुल गांधी ने भारत बचाओ रैली में यह बात कही.

कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul gandhi) ने 'रेप इन इंडिया' वाली टिप्पणी पर भाजपा की ओर माफी की मांग किए जाने पर पलटवार किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 14, 2019, 6:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul gandhi) ने दिल्ली स्थित रामलीला मैदान में भारत बचाओ रैली के दौरान अपने भाषण की शुरुआत में 'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर माफी की मांग पर टिप्पणी की. भारत बचाओ रैली के दौरान राहुल ने कहा, 'भाजपा ने मुझे माफी मांगने के लिए कहा. मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, राहुल गांधी है. मैं सच्चाई के लिए कभी माफी नहीं मांगूंगा. मैं मर जाऊंगा, मगर माफी नहीं मांगूंगा, न कोई कांग्रेस कार्यकर्ता मांगेगा.'

राहुल के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने उनकी आलोचना की है. बीजेपी नेताओं ने उन्हें नाम भी सुझाए हैं. राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिंह राव ने कहा, 'राहुल सावरकर नहीं हैं, उन्हें अपना नाम बदलकर राहुल जिन्ना रखना चाहिए. उनके पूरे परिवार को अब जिन्ना की विरासत का दावा करना चाहिए, न कि नेहरू-गांधी के नाम पर.'

संबित बोले- 100 जन्म लें तब भी राहुल सावरकर नहीं हो सकते...
बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, 'अगर राहुल गांधी 100 जन्म लें तो भी वह राहुल सावरकर नहीं हो सकते. सावरकर 'वीर' थे, देशभक्त थे और बलिदानी थे. राहुल गांधी अनुच्छेद 370, हवाई हमले, सर्जिकल स्ट्राइक सीएबी पाकिस्तान की भाषा के लिए इस्तेमाल करते हैं. वह 'वीर' नहीं हो सकते या सावरकर के बराबर नहीं हो सकते.'

उन्होंने कहा कि 'अगर वह (राहुल गांधी) कोई नया नाम चाहते हैं, तो आज भाजपा उन्हें 'राहुल थोड़ा शर्म कर' के नाम से बुलाएगी. उन्हें वास्तव में थोड़ी शर्म करनी चाहिए, एक व्यक्ति जो 'मेक इन इंडिया' की तुलना 'रेप इन इंडिया' से करता है, उसने शर्म और गरिमा की सभी हदें पार कर दी हैं.'

यह भी पढ़ें  नागरिकता कानून के खिलाफ 21 दिसंबर को बिहार बंद करेगी RJD, मांझी का भी समर्थन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 4:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर