'ऑक्सीजन की कमी...' वाले बयान पर गरमाई सियासत, BJP ने कहा- बाज नहीं आ रहे राहुल गांधी और AAP

संबित पात्रा ने कहा है कि हमें राज्यों से डेटा मिलता है. (फोटो: ANI/Twitter)

Oxygen Shortage Dispute: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार (Bharati Pawar) ने कहा था कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की तरफ से ऑक्सीजन की कमी के चलते मौतों की जानकारी नहीं दी गई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सरकार ने कहा था कि ऑक्सीजन की कमी से किसी मौत की जानकारी नहीं है. इस बयान पर सियासत गरमा गई है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा है. पात्रा ने कहा है कि ये राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य राज्य का मसला है और राज्यों से जो डेटा मिलता है, उसके आधार पर हम जानकारी तैयार करते हैं.

    डेटा पर दी सफाई
    पात्रा ने कहा कि हमने पहले ही कहा है कि महामारी पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि तीन बातें ध्यान देने योग्य हैं. '1-केंद्र कहती है कि स्वास्थ्य राज्यों का विषय है. 2-केंद्र कहती है कि हम सिर्फ राज्यों के भेजे डेटा को संग्रहित करते हैं. 3-हमने एक गाइडलाइन जारी की है, जिसके आधार पर राज्य अपने मौत के आंकड़ों को रिपोर्ट कर सकें.' उन्होंने कहा, 'किसी भी राज्य ने ऑक्सीजन की कमी को लेकर हुई मृत्यु पर कोई आंकड़ा नहीं भेजा. किसी ने ये नहीं कहा कि उनके राज्य में ऑक्सीजन की कमी को लेकर मौत हुई है.' इसके अलावा प्रवक्ता ने राज्यों की तरफ से दिए गए बयानों का हवाला दिया.

    यह भी पढ़ें: 'ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई मौत', सरकार के इस बयान पर संजय राउत ने भी उठाए सवाल

    'टीवी पर कुछ और बाहर कुछ'
    पात्रा ने कहा, 'न्यायाधीशों के सामने महाराष्ट्र सरकार ने माना है कि किसी प्रकार से कोई मृत्यु ऑक्सीजन के कारण नहीं हुई है. छत्तीसगढ़ जहां कांग्रेस की सरकार है वो खुद कह रही है कि हमारे राज्य में एक भी मृत्यु ऑक्सीजन की कमी के कारण नहीं हुई है. उन्होंने कहा कि केजरीवाल जी खुद हाईकोर्ट को लिखित में देते हैं कि एक भी मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है. उन्होंने कहा, 'टीवी पर कुछ और बाहर कुछ.'

    उन्होंने कहा कि मैं केजरीवाल और राहुल गांधी को दिल्ली में जयपुर गोल्डन और बत्रा अस्पताल में हुई मौतों की याद दिलाना चाहता हूं. पात्रा के अनुसार, केजरीवाल सरकार ने बताया था कि जो मरीज इन अस्पतालों में मरे हैं तो उनकी मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई. बल्कि गंभीर बीमारी की वजह से हुई.

    स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने कहा था कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की तरफ से ऑक्सीजन की कमी के चलते मौतों की जानकारी नहीं दी गई है. इसके बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, शिवसेना सांसद संजय राउत समेत कई नेताओं ने सरकार पर सवाल उठाए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.