Union Budget 2018-19 Union Budget 2018-19

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की दोस्ती रंग लाई, कांग्रेस-एनसीपी चारों खाने चित

News18India.com
Updated: November 29, 2016, 9:47 AM IST
महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की दोस्ती रंग लाई, कांग्रेस-एनसीपी चारों खाने चित
नोटबंदी के बाद महाराष्ट्र के नगर पालिका और नगर परिषद के चुनाव के परिणाम आ गए हैं।
News18India.com
Updated: November 29, 2016, 9:47 AM IST
नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद महाराष्ट्र के नगर पालिका और नगर परिषद के चुनाव के परिणाम बीजेपी-शिवसेना के पक्ष में आए हैं। अब तक के परिणामों के अनुसार कुल 147 सीटों में बीजेपी 52, शिवसेना 24, कांग्रेस 21, एनसीपी 22 और अन्य को अभी तक 28 सीटें मिली हैं। मुख्यमंत्री फडणवीस के गांव में भी बीजेपी की जीत हुई है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर भाजपा कार्यकर्ताओं और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को बधाई दी है। पीएम ने कहा कि यह विकास की राजनीति की जीत है। यह गरीबों के हित की जीत है।

I thank people of Maharashtra for placing their faith in BJP in local body polls. This is a win for pro-poor & development politics of BJP.








 









इन चुनावों को मिनी विधानसभा चुनाव माना जा रहा है। इसे मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की परीक्षा के तौर पर देखा जा रहा था। राज्य चुनाव आयुक्त जे एस सहारिया ने कहा कि चुनाव में करीब 70 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया।

सत्तारूढ़ भाजपा और शिवसेना ने जहां चुनावों के लिए गठबंधन किया है, वहीं विपक्षी कांग्रेस और राकांपा ने औपचारिक रूप से कोई गठबंधन नहीं बनाया है। एक अधिकारी ने कहा कि मतदान सुबह साढ़े सात बजे शुरू हुआ और शाम साढ़े पांच बजे खत्म हुआ।

पुलिस ने कहा कि चुनावों के पहले चरण में प्रचार के दौरान 41 मामलों में 26.04 करोड़ रुपये की नकदी जब्त हुई। नगर पालिका और नगर पंचायतों की 3,706 सीटों पर कुल 15,827 उम्मीदवार खड़े हैं। 164 सीटों में नगरपालिका/ नगरपंचायत की 17 सीटें और नगर परिषद की 147 सीटों पर चुनाव हुए।

राज्य के 147 नगर परिषदों और 17 नगर पंचायतों में 3705 सीटों पर हुए चुनाव में अब तक 3510 सीटों के नतीजों की घोषणा हो चुकी है। बाकी सीटों के लिए मतगणना जारी है। 147 नगर परिषदों में, जहां नगर प्रमुख सीधे चुने जाते हैं वहां भाजपा के उम्मीदवारों ने 52 जगहों पर जीत हासिल की।

भाजपा ने 851 सीटें जीतने के साथ कांग्रेस और राकांपा के गढ़ में कब्जा कर लिया है। शिवसेना ने 514, राकांपा ने 638, कांग्रेस ने 643, मनसे ने 16, बसपा ने नौ, गैरमान्यताप्राप्त दलों ने 119, स्थानीय गठबंधन ने 384, माकपा ने 12 और निर्दलीयों ने 324 सीटें जीत ली।

पिछले चुनावों में भाजपा को 298, शिवसेना को 264, कांग्रेस को 771 और राकांपा को 916 सीटें मिली थी। भाजपा के पक्ष में नतीजे आने की शुरुआत के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजय को गरीब समर्थक और भाजपा की विकास राजनीति की जीत बताया।
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर