बंगाल: ममता सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी BJP, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

कार्यकर्ताओं ने इस दौरान कोलकाता के लाल बाजार स्थित पुलिस मुख्यालय का घेराव किया. कुछ लोगों के बैरिकेड तोड़ने की कोशिश करने पर पुलिस ने पानी की बौछार की. कार्यकर्ताओं को काबू में करने के लिए आंसू गैस के गोले भी दागे गए. बीजेपी के प्रदर्शन के मद्देनजर 3 हजार से ज्यादा जवान तैनात हैं.

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 12:17 PM IST
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 12:17 PM IST
पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान शुरू हुई हिंसक घटनाओं का सिलसिला जारी है. राज्य के अलग-अलग इलाकों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) कार्यकर्ताओं के बीच खूनी संघर्ष की खबरें आ रही हैं. बशीरहाट में तीन दिन के अंदर दो बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हो गई. बीजेपी ने टीएमसी पर कथित रूप से हत्या कराने का आरोप लगाया है. कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में बुधवार को बीजेपी ने मार्च निकाला.

कार्यकर्ताओं ने इस दौरान कोलकाता के लाल बाजार स्थित पुलिस मुख्यालय का घेराव किया. कुछ लोगों के बैरिकेड तोड़ने की कोशिश करने पर पुलिस ने पानी की बौछार की. कार्यकर्ताओं को काबू में करने के लिए आंसू गैस के गोले भी दागे गए. बीजेपी के प्रदर्शन के मद्देनजर 3 हजार से ज्यादा जवान तैनात हैं.



ये भी पढ़ें: बंगाल हिंसा: अमित शाह ने मांगी रिपोर्ट, केंद्र ने कहा- ममता ठीक से काम नहीं कर रहीं

वहीं, बीजेपी के एक कार्यकर्ता ने News18 को बताया, ''हमने कोई बैरिकेड नहीं तोड़ा. हम शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे. बंगाल पुलिस ने गलत तरीके से फोर्स का इस्तेमाल किया. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर को इसका जवाब देना चाहिए.''


Loading...



बीजेपी का आरोप- जय श्री राम बोलने पर हुई हत्या
उत्तर 24 परगना जिले में सोमवार को हुए विस्फोट में 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि चार घायल हो गए. बीजेपी का आरोप लगाया है कि जय श्री राम के नारे लगाने पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यकर्ता की गला दबाकर हत्या कर दी. पुलिस ने फिलहाल हत्या के कारणों पर कुछ नहीं कहा. वहीं, टीएमसी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है.



ममता ने कहा था- बंगाल को गुजरात बनाने की कोशिश
बंगाल में जारी हिंसा के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा था, 'राज्य में फैली हिंसा में तृणमूल के 8 और बीजेपी के 2 कार्यकर्ता मारे गए. बीजेपी बंगाल को गुजरात बनाने की कोशिश कर रही है. मैं जेल जाने के लिए तैयार हूं लेकिन यह नहीं होने दूंगी.'

विजयवर्गीय बोले- बंगाल को गुजरात से बेहतर बनाएंगे
वहीं, ममता बनर्जी के इस बयान के बाद बीजेपी की ओर से महासचिव और प्रदेश प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था, ‘बंगाल में हिंसा की जिम्मेदारी ममता बनर्जी की है. वे बदले की भावना से लोगों को भड़का रही हैं. हम बंगाल को गुजरात से भी बेहतर बनाना चाहते हैं. हमारे कार्यकर्ताओं के पास कोई हथियार नहीं है. बंगाल में ऐसे ही हिंसा होती रही तो केंद्र को हस्तक्षेप करना पड़ेगा। जरूरी हुआ तो बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है.’

ये भी पढ़ें: बंगाल हिंसा: अमित शाह ने मांगी रिपोर्ट, केंद्र ने कहा- ममता ठीक से काम नहीं कर रहीं
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...