लाइव टीवी

पीके के बयान पर बोली बीजेपी- 'जिनसे पैसे लेंगे उनका ख्याल तो रखेंगे ही'

News18 Bihar
Updated: December 10, 2019, 11:37 AM IST
पीके के बयान पर बोली बीजेपी- 'जिनसे पैसे लेंगे उनका ख्याल तो रखेंगे ही'
बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि पीके ने ममता बनर्जी का ध्यान रखकर नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में बयान दिया है.

जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू ने प्रशांत किशोर के ट्वीट पर कहा कि यह उनका निजी विचार हो सकता है पार्टी का वही रुख है जो नीतीश कुमार जी ने कहा है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 10, 2019, 11:37 AM IST
  • Share this:
पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जेडीयू (JDU) ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship amendment bill) का समर्थन किया तो पार्टी के भीतर इसको लेकर विरोधाभास भी सामने आ गया. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने इस फैसले पर अपनी निराशा जाहिर की है. उन्होंने ट्वीट किया कि नागरिकता संशोधन बिल पर जेडीयू के समर्थन से दुखी हूं. यह बिल धर्म के आधार पर नागरिकता प्रदान करने वाला है जो भेदभाव पूर्ण है. अब इस मसले को लेर प्रशांत किशोर बीजेपी (BJP) के निशाने पर आ गए हैं.

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने पीके के बयान पर कहा कि अगर किसी सिख, इसाई या पारसी को इस बिल से फायदा होता है तो इसमें किसी को क्या आपत्ति है. उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के लिए काम करने को लेकर पीके पर तंज कसते हुए कहा कि जिन लोगों का धंधा राजनीति से चलता है और जिनको अपने मालिक से पैसे लेने होते हैं उसके बारे में तो ख़्याल रखेंगे ही.

Sanjay Jaiswal
बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने प्रशांत किशोर के बयान पर कहा कि ममता बनर्जी से उन्होंने करोड़ों रुपये लिए हैं, ये बयान उसी के बदले में है. (फाइल फोटो)


वहीं, BJP प्रदेश प्रवक्ता निखिल आनंद ने जेडीयू और सीएम नीतीश कुमार को धन्यवाद देते हुए प्रशांत किशोर को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि कुछ लोग खुद को ही संस्थान या संस्थागत व्यवस्था से ऊपर मानते हैं. ऐसे लोग चाहते हैं कि नेतागण उनको फॉलो करें और उनके इशारे पर चलें. जो लोग राष्ट्रहित में भेदभाव भूलाकर आगे नहीं बढ़ते वे फालतू लोग हैं.

बता दें कि जेडीयू सांसद सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि सिटिजन अमेंडमेंट बिल का पार्टी लोकसभा के साथ-साथ राज्य सभा में भी समर्थन करेगी. उन्होंने प्रशांत किशोर के ट्वीट पर कहा यह उनका निजी विचार हो सकता है पार्टी का वही रुख है जो नीतीश कुमार जी ने कहा है.

बहरहाल पीके के सवाल ने जेडीयू के लिए असहज स्थिति तो जरूर पैदा कर दी है. हालांकि पीके के बयान का कांग्रेस और आरजेडी ने समर्थन किया है. कांग्रेस एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि प्रशांत किशोर के सवाल का जवाब नीतीश कुमार को देना चाहिए, आखिर कहां गई नीतीश की सेक्यूलरिज़म?
वहीं, राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने PK की तारीफ़ करते हुए कहा कि PK ने ठीक सवाल पूछा है, नीतीश कुमार को जवाब तो देना होगा.ये भी पढ़ें

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 11:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर