• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव से पहले 'सेवा ही संगठन के जरिए' जनता तक पहुंचने की कोशिश में भाजपा

5 राज्यों में विधानसभा चुनाव से पहले 'सेवा ही संगठन के जरिए' जनता तक पहुंचने की कोशिश में भाजपा

भाजपा कोरोना के चलते उपजे असंतोष को कम करने की कोशिश में है. (सांकेतिक फोटो)

भाजपा कोरोना के चलते उपजे असंतोष को कम करने की कोशिश में है. (सांकेतिक फोटो)

Assembly Election 2022: किसान आंदोलन के चलते और अकाली दल के साथ गठबंधन टूटने के कारण पंजाब में बीजेपी को फिलहाल कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही.

  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में अगले साल की शुरूआत में ही चुनाव (Assembly Election 2022) होने हैं जिसके कारण सभी राजनीतिक दलों ने अपनी अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं. बीजेपी के लिये ये विधानसभा चुनाव काफी अहम है क्योंकि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में उसकी सरकार है इसलिए इन राज्यों में बीजेपी के लिए फिर से सरकार बनाना एक बडी चुनौती तो है ही लेकिन साथ ही साख का सवाल भी है. कोरोना की मार और किसान आंदोलन के चलते एक वर्ग बीजेपी सरकार से काफी नाराज चल रहा है, ऐसे में इन हालातों से पार पाने के लिए बीजेपी ने संघ के सुझाये मार्ग का अनुसरण करने का फैसला लिया है, जिससे उसकी नैय्या पार लग सके. उत्तर प्रदेश जैसे बडे और महत्वपूर्ण राज्य होने के कारण भी इसमें बीजेपी की साख दांव पर लगी है क्योंकि पुरानी कहावत है कि दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर ही जाता है.

किसान आंदोलन के चलते और अकाली दल के साथ गठबंधन टूटने के कारण पंजाब में बीजेपी को फिलहाल कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही. ऐसे में ऊपर से कोरोना महामारी के कारण पहली और खासकर दूसरी लहर में जिस तरह से आम लोगों में नाराजगी बढ़ी है उससे बीजेपी रणनीतिकारों को लगता है कि चुनावी राज्यों में सीधे सीधे चुनाव प्रचार करना सियासी तौर पर नुकसान कर सकता हैं इसलिये बीजेपी आलाकमान ने संघ की तर्ज पर 'सेवा ही संगठन' के दूसरे चरण में सेवा कार्यों के माध्यम से ही बीजेपी कैडर और नेताओं को जनता के बीच में जाने के निर्देश दिये हैं. जिससे जनता के बीच में सहभागिता निरंतर बनी रहे.

बीजेपी की इस रणनीति के तहत पार्टी कैडर द्वारा वैक्सीनेशन पर पूरे देश में जोर दिया जायेगा क्योंकि तीसरी लहर की संभावना लगातार जताई जा रही है, इसलिये सभी नागरिकों के वैक्सीन लगे और तीसरी लहर का खतरा कम हो सके इसलिए इस तरह का अभियान सरकार के साथ साथ बीजेपी संगठन द्वारा भी चलाया जायेगा. इस अभियान के तहत खास तौर पर बुजुर्गों और बीमार लोगों को टीकाकरण केन्द्र तक लाने के लिए कार्यकर्ताओं की टीमें अलग से बनाने के निर्देश दिये गये हैं.

आम जनता में यह संदेश भेजने की कोशिश
यही नहीं पार्टी के सांसद, विधायक और दूसरे जनप्रतिनिधियों को हॉस्पिटल, टीकाकरण केन्द्र जाकर लोगों की सहायता करने के निर्देश भी संगठन की तरफ से दिये गये हैं जिससे आम जनता में मैसेज जा सके कि बीजेपी जनप्रतिनिधि, कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर जनता के लिए काम कर रहे हैं. इसके अलावा सभी हॉस्पीटल और टीकाकरण केन्द्रों पर पार्टी के माध्यम से पीने की पानी की व्यवस्था, सफाई व्यवस्था करने के भी निर्देश दिये गये हैं.

पार्टी के चिकित्सा प्रकोष्ठ और आईटी सेल को इस पूरे अभियान से जोडने के निर्देश दिये गये हैं. इसके साथ ही सभी मंडल, जिलों और प्रदेशों के पदाधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जोड कर पूरी रूप रेखा के साथ जमीनी स्तर की मॉनिटरिंग भी पार्टी नेतृत्व के द्वारा करने की रणनीति बनाई गई है जिससे आम जनता का फीड बैक चुनावी साल में मिलता रहे क्योंकि उत्तर प्रदेश काफी अहम है इसलिये यूपी में इस पूरे अभियान पर राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष और प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल खुद नजर रख रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक संघ प्रचारक और प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल को ऐसे मामलों में महारथ हासिल है और जानकारी के मुताबिक बंसल ने सभी जिलों में तूफानी दौरे भी शुरू कर दिये हैं. इन दौरों में कार्यकर्ता और जनता की नब्ज को परखने का काम बंसल ने शुरू भी कर दिया है.



इन दौरों में बंसल का एक ही फोकस है कि सेवा कार्यों के माध्यम से जनता के बीच में पार्टी की ज्यादा से ज्यादा सहभागिता बनी रहे और ये संदेश जाये कि योगी सरकार के विकास कार्यों के साथ साथ कोरोना महामारी की अचानक आई मुसीबत की घडी में साथ देने वाला बीजेपी ही एक मात्र संगठन है जो जनता के साथ खडा है. बीजेपी की रणनीति है कि सेवा कार्यों के माध्यम से जनता के दिलों में जगह बना कर चुनावी श्री गणेश शुरू किया जा सके.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज