Home /News /nation /

सांसदों से मिलकर बीजेपी कर सकती है लोकसभा चुनाव में टिकट देने का फैसलाः सूत्र

सांसदों से मिलकर बीजेपी कर सकती है लोकसभा चुनाव में टिकट देने का फैसलाः सूत्र

अमित शाह की फाइल फोटो

अमित शाह की फाइल फोटो

पार्टी सूत्रों की मानें तो दिल्ली के स्थानीय निकाय चुनावों में टिकट बदलने की रणनीति सफल होने के बाद पार्टी इस लोकसभा चुनावों में 100 से ज्यादा सांसदों का टिकट काट सकती है

    लोकसभा चुनावों में बीजेपी कितने मौजूदा सांसदों की टिकट देगी और कितनों को नहीं, पार्टी ये फैसला जल्द ही कर लेना चाहती है. पार्टी के सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के बाद पार्टी अपने चुनावी मुद्दे के साथ-साथ किन सांसदों पर एक बार फिर दांव आजमाना है इस पर फैसला कर लेगी. साथ ही पार्टी बजट सत्र से पहले अपने सांसदों के जरिए जमीनी हकीकत का आंकलन करना चाहती है और इसलिए प्रधानमंत्री मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह 3 जनवरी से पहले पार्टी के सभी सांसदों से मिल लेगें.

    ये भी पढे़ेः लोकसभा में राफेल के मुद्दे पर भारी हंगामा, कांग्रेस JPC की मांग पर अड़ी

    ये मुलाकात 20 दिसंबर से चल रही है, 20 दिसंबर को जहां दिल्ली, चंडीगढ़, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश,  जम्मू-कश्मीर, पंजाब एव उत्तराखंड के सांसदों से प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष की मुलाकात हुई वहीं 26 दिसंबर को पीएम और पार्टी अध्यक्ष पश्चिमी उत्तर प्रदेश और सेंट्रल यूपी के सांसदों से मिले. आज पार्टी का शीर्ष नेतृत्व पूर्वी यूपी और बिहार के सांसदों से मिल रहा है. 28 दिसंबर को मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, पुडुचेरी तथा लक्ष्यदीप के सांसदों से मिलेंगे.

    दो जनवरी को महाराष्ट्र के सांसदों का नंबर रहेगा तो तीन जनवरी को राजस्थान, अंडमान-निकोबार, झारखंड, उड़ीसा, नॉर्थ ईस्ट और पश्चिम बंगाल के सासंदों से मुलाकात के बाद पार्टी में मंथन का दौर तेज हो जाएगा. इसके पहले राज्यों को प्रभारियों में फेरबदल कर पार्टी नेतृत्व ने लोकसभा चुनावों की तैयारी की रफ्तार तेज कर दी है.

    पार्टी सूत्रों की मानें तो दिल्ली के स्थानीय निकाय चुनावों में टिकट बदलने की रणनीति सफल होने के बाद पार्टी इस लोकसभा चुनावों में 100 से ज्यादा सांसदों का टिकट काट सकती है. पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में गिने जाने वाले कुछ नेताओं ने तो पहले ही चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है और कुछ का टिकट उम्र की सीमा तय होने के साथ अपने आप टिकट की दौड़ से बाहर हो जाएगा.

    लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार नहीं करेगी किसानों की कर्ज माफी: रिपोर्ट

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उम्र सीमा का प्रयोग अपने कैबिनेट विस्तार में कर में कर चुके हैं और कई राज्यों के चुनावों में भी पार्टी इसका प्रयोग कर चुकी है और अगर उम्र सीमा का नियम सख्ती से लागू होता है तो कई वो चहरे जो बीजेपी की पहचान रहे हैं, पार्टी उनके बिना चुनाव मैदान में जाएगी.

    Tags: Amit shah, BJP, Congress, Narendra modi, Rahul gandhi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर