पश्चिम बंगाल में अब महिला BJP कार्यकर्ता की हत्या, बशीरहाट में तनाव के हालात

पिछले दिनों बशीरहाट में ही राजनीतिक हिंसा में दो भाजपा कार्यकर्ताओं और एक तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद पूरे देश में राजनीति गर्मा गई थी.

News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 8:45 AM IST
पश्चिम बंगाल में अब महिला BJP कार्यकर्ता की हत्या, बशीरहाट में तनाव के हालात
पुलिस के अनुसार यह हत्या राजनीतिक हिंसा के चलते हुई है इस बात की अभी कोई जानकारी नहीं मिल सकी है.
News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 8:45 AM IST
पश्चिम बंगाल में हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है. बशीरहाट लोकसभा क्षेत्र के हासनाबाद में एक महिला भाजपा कार्यकर्ता की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई है. वारदात के बाद से ही पूरे इलाके में तनाव के हालात हैं. मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात किया गया है. मामले की जांच की जा रही है. पुलिस के अनुसार यह हत्या राजनीतिक हिंसा के चलते हुई है इस बात की अभी कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. गौरतलब है कि पिछले दिनों बशीरहाट में ही राजनीतिक हिंसा में दो भाजपा कार्यकर्ताओं और एक तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद पूरे देश में राजनीति गर्मा गई थी. एक तरफ बीजेपी ने आरोप लगाया था कि हत्या के पीछे टीएमसी का हाथ है, वहीं टीएमसी का कहना था कि यह बीजेपी की साजिश है. बताया जा रहा है कि ये कार्यकर्ता पहले हुई हिंसा के दौरान संदेशखाली भी गई थीं और हासनाबाद में विरोध प्रदर्शन भी किया था.

पहले हुई थी तीन बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या


इससे पहले 9 जून को पश्चिम बंगाल के 24 परगना में टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई थी. इस झड़प में चार लोगों की मौत हो गई थी. बीजेपी ने आरोप लगाया था कि उसके तीन कार्यकर्ताओं को टीएमसी के लोगों ने गोली मार दी है. उधर टीएमसी का आरोप है कि उनके एक कार्यकर्ता कायुम मोल्लह की हत्या कर दी गई है. बताया जा रहा है कि यह झड़प पार्टी के झंडे लगाने को लेकर हुई थी, जिसके बाद दोनों ही तरफ से काफी संख्या में कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए.

राज्यपाल की बैठक भी बेनतीजा

पश्चिम बंगाल में जारी हिंसा के बीच राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने गुरुवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. बैठक के बाद बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश मजुमदार ने कहा कि राज्यपाल ने कुछ सुझाव दिए, लेकिन सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के प्रतिनिधि ने कहा कि उन्हें पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी से से चर्चा करने की जरूरत है. तृणमूल कांग्रेस की ओर से बैठक में पार्टी के महासचिव और राज्य के मंत्री पार्थ चटर्जी गए थे.

बीजेपी के इशारे पर हो रही है बैठक
इससे पहले दिन में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर बैठक बुलाने के राज्यपाल के फैसले पर सवाल उठाया और बैठक में हिस्सा लेने से मना कर दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी के इशारे पर बैठक बुलाई गई. मजुमदार ने कहा कि बैठक से साबित हो गया कि राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है.
Loading...

 

 

ये भी पढ़ें- बंगाल हिंसा: राज्यपाल की सर्वदलीय बैठक में भी नहीं निकला कोई नतीजा

15 जून को होगी नीति आयोग की बैठक, इन प्रमुख मुद्दों पर होगी चर्चा


SCO शिखर सम्मेलन: PAK एयरस्पेस को छोड़ इस रास्ते किर्गिस्तान पहुंचे PM मोदी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...