गोवा में कांग्रेस ने किया सरकार बनाने का दावा तो शाह ने नया CM तलाशने को भेजी टीम

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी बताया जा रहा है कि पर्रिकर की हालत को देखते हुए बीजेपी अभी से नए सीएम कैंडिडेट की तलाश में भी जुट गई है.

News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 1:58 PM IST
गोवा में कांग्रेस ने किया सरकार बनाने का दावा तो शाह ने नया CM तलाशने को भेजी टीम
अमित शाह के साथ मनोहर पर्रिकर (फाइल)
News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 1:58 PM IST
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की तबियत बेहद खराब बताई जा रही है. इस बीच कांग्रेस ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर गोवा में सरकार बनाने का दावा पेश किया है. पार्टी का कहना है कि विधायक फ्रांसिस डिसूजा के निधन के बाद से विधानसभा में बीजेपी के 13 विधायक हैं. मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली सरकार के पास बहुमत नहीं है, जो पार्टी अल्पमत में है उसको सरकार में रहने का कोई हक नहीं है. कांग्रेस के इस दावे के बाद शनिवार को बीजेपी ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई, जिसमें मौजूदा राजनीतिक संकट पर चर्चा हुई. बताया जा रहा है कि रविवार को बीजेपी के शीर्ष नेता गोवा पहुंचकर विधायकों से मीटिंग कर सकते हैं.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी बताया जा रहा है कि पर्रिकर की हालत को देखते हुए बीजेपी अभी से नए सीएम कैंडिडेट की तलाश में भी जुट गई है. शनिवार को हुई मीटिंग में बीजेपी के एक विधायक ने कहा था कि मुख्यमंत्री मौजूदा विधायकों में से ही कोई होगा.

मनोहर पर्रिकर के दफ्तर ने अफवाहों को किया खारिज, कहा- गोवा सीएम की हालत स्थिर



News18 को सूत्रों ने बताया कि बीजेपी नेतृत्व आज अपने सहयोगी दलों महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी, गोवा फॉरवर्ड पार्टी और तीन निर्दलीय विधायकों के साथ मीटिंग करेगा.

सूत्रों का यह भी कहना है कि राजनीतिक संकट को खत्म करने के लिए बीजेपी नेतृत्व केंद्रीय सड़क व परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को गोवा भेज सकती है. गडकरी पिछले चुनाव में बीजेपी प्रभारी थे. हालांकि, बीजेपी ने गडकरी के गोवा जाने को लेकर आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं कहा है.

इससे पहले शनिवार को सोशल मीडिया पर गोवा सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन की अफवाहें जोरों पर थीं. वहीं शाम को कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा को चिट्ठी लिखकर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया. इसके तुरंत बाद हरकत में आए बीजेपी के विधायक और कोर कमिटी के सदस्यों ने इमरजेंसी मीटिंग की. मीटिंग में इस बात पर मंथन किया गया कि कैसे मौजूदा राजनीतिक हालात से निपटा जाए.

दरअसल, विधायक डि'सूजा के निधन और दो विधायक सुभाष शिरोडकर व दयानंद सोप्ते के इस्तीफे के बाद 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में 37 विधायक रह गए हैं. कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है और उसके पास 14 विधायक हैं. जबकि बीजेपी के पास 13 विधायक हैं. जिसे महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के 3, गोवा फारवर्ड पार्टी के 3 और 3 निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल है. बहुमत का आंकड़ा 21 है. कांग्रेस का दावा है कि बीजेपी अल्पमत में है. इसलिए उसे सरकार में नहीं रहना चाहिए.

Loading...

वैसे शनिवार को बीजेपी के सहयोगी दलों के 6 विधायकों ने सीएम पर्रिकर से मुलाकात की और सरकार के साथ होने का भरोसा दिलाया. फिर भी बीजेपी कोई रिस्क नहीं लेना चाहती. बीजेपी को हॉर्स ट्रेडिंग का भी डर है. लिहाजा पार्टी ने विधायकों को साफ कहा कि वह गोवा छोड़कर न जाएं.

गोवा में कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा, कहा- BJP के पास बहुमत नहीं

बता दें कि गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर पैन्क्रियाज कैंसर के लास्ट स्टेज पर हैं. दिनोंदिन उनकी हालत खराब होती जा रही है.  63 वर्षीय पर्रिकर को 31 जनवरी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती कराया गया था.  हाल ही में बीमार मुख्यमंत्री ने 3 मार्च को गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में चेक-अप कराया था. फरवरी में पर्रिकर का जीएमसीएच में एक ऑपरेशन भी हुआ था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...