होम /न्यूज /राष्ट्र /

Corona Side Effects: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ठीक हो चुके मरीजों में बढ़ा 'ब्लैक फंगस' का खतरा

Corona Side Effects: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ठीक हो चुके मरीजों में बढ़ा 'ब्लैक फंगस' का खतरा

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ठीक हो चुके मरीजों में बढ़ा'ब्लैक फंगस' का खतरा

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ठीक हो चुके मरीजों में बढ़ा'ब्लैक फंगस' का खतरा

दिल्ली (Delhi) के एक प्रतिष्ठित निजी अस्पताल के डॉक्टर कोविड-19 (Covid-19) से उत्पन्न ‘म्यूकोरमाइसिस’ (Mucormycosis) मामलों में वृद्धि देख रहे हैं. ‘म्यूकोरमाइसिस’ कोविड-19 से होने वाला एक फंगल संक्रमण है.

    नई दिल्ली. देश में एक ओर जहां कोरोना के संक्रमण (Corona Infection) ने कोहराम मचा रखा है वहीं दिल्‍ली में एक और बीमारी का खतरा पैर पसारने लगा है. दिल्ली के एक प्रतिष्ठित निजी अस्पताल के डॉक्टर कोविड-19 (Covid-19) से उत्पन्न ‘म्यूकोरमाइसिस’ (Mucormycosis) मामलों में वृद्धि देख रहे हैं. ‘म्यूकोरमाइसिस’ कोविड-19 से होने वाला एक फंगल संक्रमण है. इस बीमारी में रोगियों की आंखों की रोशनी जाने और जबड़े तथा नाक की हड्डी गलने का खतरा रहता है.

    सर गंगाराम अस्पताल के वरिष्ठ नाक कान गला (ईएनटी) सर्जन डॉक्टर मनीष मुंजाल ने कहा, हम कोविड-19 से होने वाले इस खतरनाक फंगल संक्रमण के मामलों में फिर से वृद्धि देख रहे हैं. बीते दो दिन में हमने म्यूकोरमाइसिस से पीड़ित छह रोगियों को भर्ती किया है. बीते साल इस घातक संक्रमण में मृत्यु दर काफी अधिक रही थी और इससे पीड़ित कई लोगों की आंखों की रोशनी चली गई थी तथा नाक और जबड़े की हड्डी गल गई थी.

    इसे भी पढ़ें :- भारत में कोरोना से हो रही मौत के आंकड़ों ने डराया, हर घंटे 150 की जा रही जान

    अस्पताल में ईएनटी विभाग के अध्यक्ष डॉ.अजय स्वरूप ने कहा कि कोरोना मरीजों में पहले अगर किसी तरह की कोई गंभीर बीमारी है तो उनमें संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है. COVID-19 के उपचार में स्टेरॉयड का उपयोग इस बात को ध्यान में रखकर किया जाता है कि कई कोरोनोवायरस के मरीजों को डायबिटीज होता है. जिस किसी भी मरीज को डायबिटीज की शिकायत होती है उनमें ब्लैक फंगस की समस्‍या ज्‍यादा देखी गई है.

    इसे भी पढ़ें :- COVID-19 in India: बेकाबू हुआ कोरोना! 24 घंटे में आए रिकॉर्ड 4.14 लाख केस, महाराष्‍ट्र में फिर बढ़ा खतरा

    ब्‍लैक फंगस का संक्रमण उन मरीजों में ज्‍यादा देखा जा रहा है जो कोरोना से पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं. या फिर जिनको डायबिटीज़, किडनी या दिल की बीमारी या कैंसर जैसी समस्याओं है.undefined

    Tags: Corona, Corona 19, Corona Cases, Corona infection, COVID-19 CASES

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर