अपना शहर चुनें

States

क्या ईरान ने कराया इजराइली दूतावास के पास विस्फोट? लिफाफे में लिखा मिला कासिम सुलेमानी का नाम

ये दूसरा मौका है जब दिल्ली में इजरायल के दूतावास को निशाना बनाने की कोशिश की गई.  (फोटो- AP)
ये दूसरा मौका है जब दिल्ली में इजरायल के दूतावास को निशाना बनाने की कोशिश की गई. (फोटो- AP)

Embassy of Israel Blast: दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने इजराइली दूतावास के पास हुए ब्लास्ट स्थल का दौरा किया है. इजरायल ने इस धमाके को आतंकी हमला करार दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 9:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को इजराइली दूतावास (Embassy of Israel) के पास हुए एक विस्फोट (Blast) को लेकर छानबीन जोरशोर से जारी है. पुलिस के मुताबिक ये एक मामूली विस्फोट था जिसमें वहां खड़ी तीन कारों के शीशे टूट गए. राहत की बात ये रही कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ. इस बीच घटनास्थल से दिल्ली पुलिस को एक लिफाफा मिला है. ये चिट्ठी इजरायली एम्बेसी के नाम है. इसमें लिखा है कि ये तो बस ट्रेलर है आगे और भी हमले हो सकते हैं.

सूत्रों के मूताबिक है कि इस धमकी भरी चिट्ठी में ईरान की कुद्स फोर्स के कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी का नाम लिखा है. बता दें कि सुलेमानी ईरान के सबसे ताकतवर कमांडर थे. पिछले साल जनवरी में अमेरिका ने एक ड्रोन हमले में जनरल कासिम सुलेमानी को बगदाद में मार दिया था. सूत्रों के मुताबिक इस चिट्ठी में सुलेमानी के अलावा एक और शख्स का नाम लिखा है, जिसे ईरान ने शहीद का दर्जा दिया है. इस लेटर को इजरायल के राजदूत को संबोधित किया गया है. पत्र में कहा गया है कि ये एक "ट्रेलर" था. जिसमें ईरान का शक्तिशाली जनरल और एक वैज्ञानिक का नाम है.

दूसरी बार निशाने पर इजरायली दूतावास
ये दूसरा मौका है जब दिल्ली में इजरायल के दूतावास को निशाना बनाने की कोशिश की गई है. इससे पहले साल 2012 में इजरायल के राजनयिक तेल येहोशुआ और भारत के ड्राइवर एक ब्लास्ट में घायल हुए थे. ये एक मैगनेटिक ब्लास्ट था. इस हादसे में कुल चार लोग घायल हुए थे. उस वक्त भी इज़रायल ने इस हमले के लिए ईरान को ज़िम्मेदार ठहराया था.



इजरायल ने कहा ये आतंकी हमला
दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने इजराइली दूतावास के पास हुए ब्लास्ट स्थल का दौरा किया है.  इजरायल की ओर से इसे आतंकी हमला करार दिया गया है. इस घटना को लेकर भारत सरकार बेहद सख्त है. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने इजरायल के अपने समकक्ष से बात की है. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि विस्फोट के बाद गृहमंत्री अमित शाह कोताजा हालात के बारे में बता दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज