कोविड-19 से मरने वाले व्यक्ति का शव 14 घंटे पड़ा रहा, पार्षद ने कॉल का नहीं दिया जवाब: परिवार

कोविड-19 से मरने वाले व्यक्ति का शव 14 घंटे पड़ा रहा, पार्षद ने कॉल का नहीं दिया जवाब: परिवार
पश्चिम बंगाल में कोविड-19 से मौत के बाद एक बुजुर्ग का शव घंटो तक पड़ा रहा (सांकेतिक फोटो)

राज्य के मंत्री एवं स्थानीय विधायक पार्थ चटर्जी (State minister and local MLA Partha Chatterjee) ने हस्तक्षेप किया, तब जाकर इस 60 से अधिक उम्र के इस व्यक्ति के शव (dead body) की अंतिम संस्कार (last rites) का इंतजाम किया जा सका.

  • Share this:
कोलकाता. कोविड-19 (Covid-19) से मरने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति (Old Man) के परिवार (Family) ने दावा किया है कि दक्षिण 24 परगना (south 24 Parganas) जिला स्थित आवास में उनका शव 14 घंटे तक पड़ा रहा, लेकिन बार-बार कॉल किये जाने बावजूद पड़ोसियों और स्थानीय पार्षद (local Councillor) ने कोई जवाब नहीं दिया. परिवार के सदस्यों (Family members) ने बताया कि करीब 65 वर्ष की आयु के व्यक्ति की रविवार मध्य रात्रि (midnight) मृत्यु हो गई.

जिस व्यक्ति की मौत हुई उसके परिवार में तीन अन्य लोगों को भी कोरोना वायरस से संक्रमित (Coronavirus Infected) पाया गया था. मृतक के भाई ने बताया, ‘‘मेरे बड़े भाई के अलावा परिवार के तीन अन्य लोगों की भी कोविड-19 जांच रिपोर्ट (Coronavirus Testing Report) पॉजिटिव आई थी. दादा(भाई) की रविवार रात 11 बजकर 55 मिनट पर मृत्यु हो गई. तब से हमनें पार्षद अशोक मंडल से कई बार संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन किसी भी (फोन) कॉल (call) का जवाब नहीं मिला. हमनें राज्य स्वास्थ्य विभाग (State health department) से भी संपर्क किया लेकिन किसी ने मदद नहीं की. ’’

राज्य के मंत्री और स्थानीय विधायक के हस्तक्षेप के बाद हो सका शव का अंतिम संस्कार
उन्होंने बताया कि पड़ोस से भी कोई मदद के लिये नहीं आया. जब राज्य के मंत्री एवं स्थानीय विधायक पार्थ चटर्जी (State minister and local MLA Partha Chatterjee) ने हस्तक्षेप किया, तब जाकर इस 60 से अधिक उम्र के इस व्यक्ति के शव की अंतिम संस्कार का इंतजाम किया जा सका.
यह भी पढ़ें: PM न करते पहल तो आज हमारे पास नहीं होते राफेल लड़ाकू विमान:रिटायर्ड एयर मार्शल



बेहला पश्चिम क्षेत्र से विधायक चटर्जी ने संपर्क किये जाने पर कहा, ‘‘मैंने बेहला पुलिस थाना प्रभारी और मृतक के भाई से बात की. यदि पार्षद ने कॉल का जवाब नहीं दिया तो यह सही चीज नहीं है. मैं चीजों की व्यक्तिगत रूप से निगरानी कर रहा हूं. ’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading