Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Exclusive: मुंबई में इन रास्तों के जरिए होती है ड्रग्स की सप्लाई, इन 3 किस्म की है खास डिमांड

    (Photo: News 18 Hindi)
    (Photo: News 18 Hindi)

    Bollywood Drugs case: मुंबई में कुछ नाइजीरिया के मूल कारोबारी ड्रग्स का बड़ा हब बना चुके हैं कुछ खास जगहों से ड्रग्स का पूरा गोरख धंधा ऑपरेट करते हैं. मीरा रोड़, खार घर, वाशी, पुलवा गांव ये चार खास हब है ड्रग्स खरीफ फोरख्त के. जहां से नाइजीरिया मूल के ड्र्ग्स माफिया पैडलर्स डीलर्स ऑपरेटर करते है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 2, 2020, 11:58 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मौत मामले में ड्रग्स कनेक्शन (Drugs Connections) सामने आने के बाद अब तक कई स्टार्स से पूछताछ हो चुकी है. दीपिका पादुकोण (Deepika padukone), श्रद्धा कपूर, सारा अली खान समेत कई स्टार्स का नाम ड्रग्स कनेक्शन में आ चुका है. ड्रग्स कनेक्शन को लेकर न्यूज़18 इंडिया ने ही 28 अगस्त को ही सबसे पहला खुलासा किया था, मुंबई एंटी नारकोटिक्स सेल के 20 साल पुराने इन्फॉर्मर के एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में की बॉलीवुड ड्रग्स सिंडिकेट में नाईजीरिया मूल के ड्रग्स डीलर्स माफिया का बहुत बड़ा हाथ है. यही वजह है की NCB डेविड और DJ की सरगर्मी से तलाश कर रही है.

    मुंबई में कुछ नाइजीरिया के मूल कारोबारी ड्रग्स का बड़ा हब बना चुके हैं कुछ खास जगहों से ड्रग्स का पूरा गोरख धंधा ऑपरेट करते हैं. मीरा रोड़, खार घर, वाशी, पुलवा गांव ये चार खास हब है ड्रग्स खरीफ फोरख्त के. जहां से नाइजीरिया मूल के ड्र्ग्स माफिया पैडलर्स डीलर्स ऑपरेटर करते है.

    मुंबई में किस ड्रग्स की है ज्यादा डिमांड?



    चरस (नेपाली, हिमाचली और कश्मीरी), कोकीन, MD और MDMA मुंबई में इन ड्रग्स की डिमांग काफी ज्यादा है. नेपाल के रास्ते से नेपाली चरस मुंबई के सस्ता बाजार पहुंचाई जाती है. दूसरी है कश्मीरी चरस जो महंगा बाजार में सबसे पहले पहुंचाई जाती है, पर हाल में धारा 370 हटने के बाद कश्मीरी चरस मुंबई में आना बंद हो गई है. कश्मीरी चरस के कारोबार का मुंबई का सबसे बड़ा नाम अब्दुल थाना कर है जिसे NCB ने साल 2018 में गिरफ्तार किया था.
    अब्दुल एक जमाने मे दाऊद इब्राहिम का करीबी हुआ करता था. अब्दुल का गैंग कश्मीरी चरस की खेप को मुंबई में बैठकर खरीद फोरख्त करता था. जबकी सबसे ज्यादा चरस की खपत मुंबई में हिमाचल प्रदेश के मनाला से आने वाली चरस की है. जिसे मनाला क्रीम बोला जाता है. NCB के अधिकारी बताते है की मनाला क्रीम नाम की चरस एक तौला 9 से 10 हजार रुपए में मिलती है.

    लॉकडाउन के कारण चरस की सप्लाई हुई बंद
    कोकीन की खेप ब्राजील से एसओआई पोलो से होते हुए भारत के मुंबई शहर तक हवाई रूट्स के जरिये पहुंचती है. पर फिलहाल लॉकडाउन के चलते कोकीन की खेप न के बराबर मुंबई पहुंच रही है. MD और MDMA ड्रग्स नार्थ इंडिया जैसे चंडीगढ़, जयपुर, पुष्कर के रास्ते मुंबई पहुंच रही है. MD को मुंबई में सस्ता कोकीन भी बोला जाता है. जिसका हब महाराष्ट्र का पालघर है, जहां छोटी-छोटी कैमिकल की फेक्ट्री में MD तैयार किया जा रहा है. गौर करने वाली बात ये है कि पिछले 3 से 4 सालों में ड्रग्स की कोई बड़ी खेप समुद्र के रास्ते मुंबई नहीं पहुंची है.

    गोवा में इकट्ठा की जाती है सबसे ज्यादा खेप
    NCB सूत्र बताते हैं महाराष्ट्र में ड्रग्स के गोरख धंधे मे ड्रग्स का भंडार गोवा को बोलना कतई गलत नहीं होगा क्योंकि गोवा में ही सबसे ज्यादा ड्रग्स की खेप को इकट्ठा कर रखा जाता है फिर उसे बाजार और ग्राहक के हिसाब से आगे सप्लाई किया जाता है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज