Home /News /nation /

'किंगफिशर पक्षी की तरह विजय माल्या भी उड़कर दूर चले गए'

'किंगफिशर पक्षी की तरह विजय माल्या भी उड़कर दूर चले गए'

FILE PHOTO

FILE PHOTO

बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि कारोबारी विजय माल्या ने अपनी कंपनी का नाम ‘किंगफिशर’ सही रखा था क्योंकि इस नाम के पक्षी की तरह वह भी बिना किसी सीमा की चिंता किए उड़कर दूर चले गए.

  • Bhasha
  • Last Updated :
    बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि कारोबारी विजय माल्या ने अपनी कंपनी का नाम ‘किंगफिशर’ सही रखा था क्योंकि इस नाम के पक्षी की तरह वह भी बिना किसी सीमा की चिंता किए उड़कर दूर चले गए.

    जस्टिस एस.सी. धर्माधिकारी और जस्टिस बी.पी. कोलाबावाला की बैंच ने सर्विस टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से दाखिल एक अपील और एक याचिका पर सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की.

    जस्टिस धर्माधिकारी ने कहा कि क्या किसी को मालूम है कि माल्या ने अपनी कंपनी का नाम किंगफिशर क्यों रखा? इतिहास में कोई भी इस कंपनी के लिए इससे बेहतर नाम नहीं रख सकता था. क्योंकि किंगफिशर एक पक्षी है जो दूर तक उड सकता है. इसे कोई सीमा नहीं रोक सकती. जैसे कोई भी माल्या को नहीं रोक सका. कोर्ट ने सर्विस टैक्स डिपार्टमेंट की अपील को स्वीकार कर लिया जिसमें ऋण वसूली प्राधिकरण द्वारा 2014 में दिए गए एक आदेश को चुनौती दी गई है. कोर्ट इस पर बाद के चरण में सुनवाई करेगी.

    विभाग की ओर से की गई अपील के अनुसार माल्या पर किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा यात्रियों को अप्रैल 2011 से सितंबर 2012 के बीच बेचे गए टिकटों पर 32.78 करोड़ रुपए का सर्विस टैक्स बकाया है. विभाग का माल्या पर कुल बकाया 532 करोड़ रुपए का है.

    अपनी दूसरी याचिका में विभाग ने माल्या के निजी विमान की नीलामी बिक्री पर रोक लगाने की मांग की है क्योंकि सबसे बड़े बोलीदाता ने जो बोली लगाई है, वह विमान की कुल लागत का सिर्फ 80 प्रतिशत ही है. अदालत ने इस याचिका पर सुनवाई के लिए 26 सितंबर की तारीख तय की है. विभाग ने माल्या के जेट एयरबस 319 को जब्त कर लिया है जिसमें 25 यात्री और चालक दल के छह सदस्य यात्रा कर सकते हैं.

    विभाग की ओर से इसी साल मई में एक नोटिस जारी कर नीलामी का विज्ञापन दिया गया था. विमान को विशिष्ट रूप से बेहतरीन सुविधाओं से लैस बताया गया था जिसमें कॉन्फ्रेंस रूम, मीटिंग रूम आदि भी हैं.

    बंद हो गई कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के अध्यक्ष माल्या 17 बैंकों की 9,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि का भुगतान नहीं करने के कारण कार्रवाई का सामना कर रहे हैं. वह मार्च में देश छोड़कर चले गए थे और कहा जा रहा है कि वह अभी ब्रिटेन में हैं.

    Tags: Bombay high court, Vijay Mallya

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर