Home /News /nation /

हाईकोर्ट का फैसला: अवैध धार्मिक ढांचों को ध्वस्त करे महाराष्ट्र सरकार

हाईकोर्ट का फैसला: अवैध धार्मिक ढांचों को ध्वस्त करे महाराष्ट्र सरकार

तस्वीर: Getty Images

तस्वीर: Getty Images

न्यायमूर्ति अभय ओका की अध्यक्षता वाली एक खंड पीठ ने कहा कि सरकार द्वारा किए जाने वाले ऐसे कार्य में किसी भी राजनीतिक दखलंदाजी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

    मुंबई। अवैध रूप से निर्मित स्थान पर उपासना की इजाजत किसी धर्म में नहीं होने का जिक्र करते हुए बंबई उच्च न्यायालय ने आज महाराष्ट्र सरकार से साल के अंत तक ऐसे सभी ढांचों को ध्वस्त करने को कहा है जिनकी पहचान अवैध के तौर पर की गई है।

    न्यायमूर्ति अभय ओका की अध्यक्षता वाली एक खंड पीठ ने कहा कि सरकार द्वारा किए जाने वाले ऐसे कार्य में किसी भी राजनीतिक दखलंदाजी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

    उन्होंने सरकार से दखलंदाजी करने वाले ऐसे कार्यकर्ताओं या नेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा। अदालत ने मुंबई और अन्य शहरों के पुलिस आयुक्तों से कहा कि वे अवैध धार्मिक ढांचा ध्वस्त किए जाने के दौरान नगर निकाय कर्मचारियों को पर्याप्त संरक्षण मुहैया करें।

    अदालत ने कहा कि संविधान का अनुच्छेद 25 अवैध रूप से निर्मित किसी स्थान पर उपासना की इजाजत नहीं देता।

    Tags: Bombay high court

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर