लाइव टीवी

बंबई हाई कोर्ट का सीएए के खिलाफ जनहित याचिका पर सुनवाई से इंकार

भाषा
Updated: January 22, 2020, 3:10 PM IST
बंबई हाई कोर्ट का सीएए के खिलाफ जनहित याचिका पर सुनवाई से इंकार
अदालत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट पहले ही इस मुद्दे से संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है.

न्यायमूर्ति आर के देशपांडे और न्यायमूर्ति ए एम बोरकर की एक खंडपीठ ने याचिकाकर्ता सामाजिक कार्यकर्ता उर्मिला कोवी को शीर्ष अदालत जाने की अनुमति देते हुए कहा क‍ि सीएए के खिलाफ इस तरह की कई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट के समक्ष लंबित है, तो ऐसे में हाईकोर्ट का हस्तक्षेप करना उचित नहीं होगा.

  • Share this:
नागपुर. बंबई हाईकोर्ट की नागपुर पीठ ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली एक जनहित याचिका पर सुनवाई करने से बुधवार को इंकार कर दिया. अदालत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट पहले ही इस मुद्दे से संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है.

न्यायमूर्ति (Justice) आर के देशपांडे और न्यायमूर्ति ए एम बोरकर की एक खंडपीठ ने याचिकाकर्ता सामाजिक कार्यकर्ता उर्मिला कोवी को शीर्ष अदालत जाने की अनुमति दे दी. पीठ ने कहा कि सीएए के खिलाफ इस तरह की कई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट के समक्ष लंबित है, तो ऐसे में हाईकोर्ट का हस्तक्षेप करना उचित नहीं होगा.

याचिकाकर्ता ने अपनी जनहित याचिका (PIL) में आरोप लगाया है कि सीएए मनमाना, अनुचित और भारत के संविधान का उल्लंघन करने वाला है.
ये भी पढ़ें-

जम्मू-कश्मीर के बच्चे राष्ट्रवादी, कभी-कभी गलत दिशा में चले जाते हैं: राजनाथ

 

CAA: 'डाउटफुल सिटीजन' मार्क किए गए यूपी के 19 जिलों में लोग- SC में सिंघवी 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 3:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर