Home /News /nation /

भारत में दी जाएगी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज? जानें क्या बोले ICMR प्रमुख

भारत में दी जाएगी कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज? जानें क्या बोले ICMR प्रमुख

भारत में बूस्टर डोज देने  के लिए अपनी चर्चाएं हो रही हैं.  (फाइल फोटो)

भारत में बूस्टर डोज देने के लिए अपनी चर्चाएं हो रही हैं. (फाइल फोटो)

भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (ICMR) के निदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने सोमवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीके (anti-Corona vaccine) की बूस्टर खुराक (यानी तीसरी खुराक) देने की जरूरत के समर्थन में अब तक कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं आए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि फिलहाल वयस्क आबादी को टीके की दूसरी खुराक (Second Dose) दी जाए. भारत में टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) की अगली बैठक में बूस्टर खुराक (Covid-19 Booster Shot) को लेकर चर्चा की जा सकती है. बूस्टर खुराक लगाने की संभावना पर केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया (Health Minister Mansukh Mandaviya) ने हाल में कहा था कि टीकों का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है और लक्ष्य है कि आबादी को टीके की दोनों खुराकें लगाई जाएं.

अधिक पढ़ें ...

    नयी दिल्ली. भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (ICMR) के निदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने सोमवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीके (anti-Corona vaccine) की बूस्टर खुराक (यानी तीसरी खुराक) देने की जरूरत के समर्थन में अब तक कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं आए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि फिलहाल वयस्क आबादी को टीके की दूसरी खुराक (Second Dose) दी जाए. टीकाकरण अभियान को अभी कई इलाकों तक पहुंचाया जाना बाकी है और दूर-दराज के मजरे-टोलों में भी टीके के प्रति जागरूकता लाना होगा. सूत्रों के मुताबिक, भारत में टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) की अगली बैठक में बूस्टर खुराक (Covid-19 Booster Shot) को लेकर चर्चा की जा सकती है.

    भार्गव ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, सरकार की फिलहाल प्राथमिकता है कि संपूर्ण वयस्क आबादी को टीके की दूसरी खुराक लगाई जाए और न सिर्फ भारत में बल्कि की पूरी दुनिया में टीकाकरण सुनिश्चित हो. उन्होंने कहा, वहीं, कोविड के खिलाफ बूस्टर खुराक की जरूरत का समर्थन करने के लिए अब तक वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं है. बूस्टर खुराक लगाने की संभावना पर केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने हाल में कहा था कि टीकों का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है और लक्ष्य है कि आबादी को टीके की दोनों खुराकें लगाई जाएं. उन्होंने कहा था कि विशेषज्ञों की सिफारिश के आधार पर बूस्टर खुराक पर निर्णय लिया जाएगा.

    ये भी पढ़ें :  त्रिपुरा हिंसा पर गृह मंत्री से मिले TMC सांसद, CM बिप्लब देब से रिपोर्ट मांगेंगे अमित शाह

    ये भी पढ़ें :  कमल हासन हुए कोरोना संक्रमित, फैंस को दी जानकारी, बोले- ‘महामारी अभी खत्म नहीं हुई है’

    मंत्री ने कहा था, ‘सरकार ऐसे मामले में सीधा फैसला नहीं ले सकती है. जब भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और विशेषज्ञ टीम कहेगी कि बूस्टर खुराक दी जानी चाहिए, तब हम इस पर विचार करेंगे. उन्होंने यह भी कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमेशा विशेषज्ञ की राय पर निर्भर रहे हैं, चाहे वह टीके का अनुसंधान हो, निर्माण हो या मंजूरी हो.

    अधिकारियों के अनुसार, भारत में लगभग 82 प्रतिशत पात्र आबादी को टीके की पहली खुराक लग गई है, जबकि लगभग 43 प्रतिशत जनसंख्या का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है. सुबह सात बजे तक के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोविड रोधी टीके की कुल 116.87 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं.

    Tags: Anti-Corona vaccine, Covid-19 Booster Shot, Health Minister Mansukh Mandaviya, Second Dose

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर