मिशेल का प्रत्यर्पण भारत के लिए बड़ी राजनयिक जीत : विदेश मंत्रालय

विदेश सचिव रवीश कुमार ने कहा है कि जिस तरह से मिशेल को भारत लाया गया है उससे भारत से भाग चुके अन्‍य लोगों को भी वापस लाने में सुविधा होगी.


Updated: December 6, 2018, 5:30 PM IST
मिशेल का प्रत्यर्पण भारत के लिए बड़ी राजनयिक जीत : विदेश मंत्रालय
विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार

Updated: December 6, 2018, 5:30 PM IST
अगस्ता वेस्टलैंड मामले में कथित रूप से बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्‍यर्पण को विदेश मंत्रालय ने भारत के लिए बड़ी राजनयिक जीत करार दिया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने कहा है कि जिस तरह से मिशेल को भारत लाया गया है, उससे भारत से भाग चुके अन्‍य लोगों को भी वापस लाने में सुविधा होगी.

जानकारी के मुताबिक अगस्‍ता वेस्‍टलैंड में कथित रूप से बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाया जा चुका है. मिशेल की गिरफ्तारी से कई महत्‍वपूर्ण जानकारी मिलने की भी उम्‍मीद है. इसी बीच विदेश मंत्रालय की ओर से बयान जारी कर मिशेल के प्रत्‍यर्पण को भारत के लिए बड़ी राजनयिक जीत करार दिया गया है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार के मुताबिक इस प्रत्‍यर्पण के बाद भारत से भाग चुके, विजय माल्‍या, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी जैसे व्‍यवसायियों को भी देश में वापस लाने में आसानी होगी.

करतारपुर कॉरिडोर पर पाकिस्‍तान की ओर से लगातार दिए जा रहे बयान पर उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो चुका है. पाकिस्‍तान ने करतारपुर कॉरिडोर को खोलकर यह बताने की कोशिश कर रहा है कि भारत की विदेश नीति को वह नुकसान पहुंचा सकता है तो यह उसकी गलतफहमी है. इसी बीच पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर पर भारत के रुख पर दुख जाहिर किया है. इमरान खान ने कहा कि भारतीय मीडिया ने करतारपुर कॉरिडोर को राजनीतिक रंग देने की कोशिश की है. भारतीय मीडिया की खबरों से लगता है जैसे करतारपुर कॉरिडोर को खोलने से पाकिस्‍तान का कोई अपना फायदा है.

इसे भी पढ़ें :-

अगस्ता वेस्टलैंड मामला : क्रिश्चियन मिशेल के ड्राइवर से पूछताछ कर सकती है सीबीआई
अगस्ता वेस्टलैंड केसः पूछताछ के दौरान हुई बेचैनी, रात में सिर्फ दो घंटे सो पाए मिशेल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->