5 महीने बाद कश्मीर के 80 सरकारी अस्पतालों में शुरू हुईं ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाएं

कश्मीर के 80 सरकारी अस्पतालों में बहाल की गई ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाएं (सांकेतिक तस्वीर)
कश्मीर के 80 सरकारी अस्पतालों में बहाल की गई ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाएं (सांकेतिक तस्वीर)

कश्मीर घाटी (Kashmir Vally) में केंद्र सरकार की अनुच्छेद 370 (Article 370) को खत्म करने की घोषणा से एक दिन पहले 4 अगस्त की रात से ही इंटरनेट सेवाएं (Internet Services) स्थगित थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2020, 5:21 PM IST
  • Share this:
जम्मू. कश्मीर घाटी (Kashmir Vally) के 80 सरकारी अस्पतालों (Government Hospitals) में ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाओं (Internet Broadband Services) की शुरुआत कर दी गई है. इनमें स्वास्थ्य केंद्र (Health Centers) और स्वास्थ्य विभाग (Health Department) से जुड़े कार्यालय भी शामिल हैं. गुरुवार को इस बारे में कश्मीर के अधिकारियों ने जानकारी दी.

एक अधिकारी ने बताया, "ब्रॉडबैंड हाई-स्पीड इंटरनेट सुविधाओं (Broadband High Speed Internet Services) को 80 सरकारी अस्पतालों में शुरू कर दिया गया है. जहां पर ये इंटरनेट सेवाएं शुरू की गई हैं. उनमें स्वास्थ्य केंद्र और स्वास्थ्य विभाग के कार्यालय भी शामिल हैं." उन्होंने बताया कि इन अस्पतालों (Hospitals) में पूरे कश्मीर के अस्पताल शामिल हैं.

पिछले पांच महीने से कश्मीर घाटी में बंद थीं इंटरनेट सेवाएं
कश्मीर घाटी में इंटरनेट सेवाएं केंद्र सरकार के अनुच्छेद 370 और जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे (Special Status) को खत्म कर इसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के फैसले के एक दिन पहले यानी 4 अगस्त से ही बंद कर दी गई थीं.
इंटरनेट सेवाओं (Internet Services) को नये साल की शुरुआत के साथ ही यानी 31 दिसंबर और 1 जनवरी की दरमियानी रात ही शुरू किया जाना था लेकिन शाम तक इनके ठीक से काम न करने और शुरू न होने की खबरें 1 जनवरी को आ रही थीं.



पूरे कश्मीर में SMS सेवाओं की भी की गई बहाली
इंटरनेट सेवाओं को सरकारी अस्पतालों में बहाल करने के अलावा कश्मीर में सभी ऑपरेटर्स के लिए SMS सेवाओं की बहाली भी की जानी थी. लेकिन ऐसा बुधवार की शाम तक नहीं हो सका था. उपभोक्ता शिकायत कर रहे थे कि सिर्फ BSNL उपभोक्ता ही SMS भेज पा रहे थे, जबकि अन्य उपभोक्ता SMS सेवाओं का प्रयोग नहीं कर पा रहे थे.

4 जनवरी को कश्मीर में इंटरनेट बैन (Internet ban) को 5 महीने पूरे हो जाएंगे. जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 में बदलावों के बाद घाटी में एहतियातन सुरक्षा के लिए कई चीजों पर बैन लगा दिया गया था. बैन के बाद 14 अक्टूबर को पोस्टपेड सेवाएं शुरू कर दी गई थीं. वहीं जम्मू, लद्दाख (Ladakh) व कारगिल (Kargil) में कई जगह इंटरनेट सेवाएं शुरू कर दी गई हैं.

यह भी पढ़ें: श्रीनगर में हिरासत में ली गईं महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज