कर्नाटक की बीएस येडियुरप्पा सरकार बेंगलुरु में गरीबों के लिए बनाएगी दो लाख मकान

सूबे के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने कहा, 2022 तक सभी को मकान उपलब्ध कराने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना के मद्देनजर राज्य सरकार ने गरीबों के लिए मकान तैयार करने के लिए 1000 एकड़ जमीन चिह्नित कर ली है.

News18Hindi
Updated: August 1, 2019, 11:36 PM IST
कर्नाटक की बीएस येडियुरप्पा सरकार बेंगलुरु में गरीबों के लिए बनाएगी दो लाख मकान
येडियुरप्पा एक हफ्ते बाद परियोजना के लिए चिह्नित किए गए तीन स्थानों का निरीक्षण करेंगे.
News18Hindi
Updated: August 1, 2019, 11:36 PM IST
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने कहा कि 2022 तक सभी को मकान उपलब्ध कराने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना के मद्देनजर राज्य सरकार ने गरीबों के लिए करीब दो लाख मकान तैयार करने के लिए 1000 एकड़ जमीन चिह्नित की है. वित्त विभाग के अधिकारियों के साथ लंबी बैठक के बाद उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इच्छा है. वह चाहते हैं कि अगले तीन-चार साल में देश के हर नागरिक के पास अपना मकान हो. इस संबंध में हमने बेंगलुरु में 10-12 मंजिला इमारत बनाने का फैसला किया है.

परियोजना के तहत बने मकानों लिफ्ट की सुविधा भी दी जाएगी 

येडियुरप्पा ने कहा कि आवास विभाग यह परियोजना पूरी करेगा. इन मकानों में लिफ्ट और अन्य सुविधाएं भी होंगी. यह गुजरात और कुछ अन्य राज्यों की परियोजनाओं की तर्ज पर होगी. उन्होंने कहा कि एक हफ्ते बाद मैं परियोजना के लिए चिह्नित किए गए तीन स्थानों का निरीक्षण करूंगा. इस साल हमने दो लाख मकान तैयार करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. इसे पूरा करने के लिए हमने 1000 एकड़ जमीन की पहचान कर ली है.

टीपू जयंती को लेकर विपक्ष ने सरकार के अस्तित्व पर उठाया सवाल 

इससे पहले येडियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद लिए सबसे पहले फैसले में टीपू जयंती समारोहों को रद्द कर दिया. इस पर कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरमैया आपत्ति जताने वाले थे, तभी मुख्यमंत्री सदन से बाहर चले गए. इस पर विपक्षी दलों ने बुधवार को विधानसभा में सरकार के अस्तित्व पर सवाल उठाया. सिद्धरमैया ने मुख्यमंत्री से कुछ देर सदन में रुकने का अनुरोध किया, लेकिन वह नहीं रुके. उनके सदन से के बाद कांग्रेस नेता ने कहा कि सरकार कहां है. बिल्कुल कोई सरकार नहीं है.

ये भी पढ़ें: 

कांग्रेस अध्यक्ष को जलियांवाला बाग मेमोरियल ट्रस्ट से बाहर करने की तैयारी में मोदी सरकार
Loading...

संसद से 'माध्यस्थम और सुलह संशोधन विधेयक' मंजूर, देश को वैश्विक मध्यस्थता केंद्र बनाना है मकसद
First published: August 1, 2019, 11:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...