कर्नाटक के हालातों का फायदा नहीं उठाएगी बीजेपी: येदियुरप्पा

येदियुरप्पा ने कहा, ‘मैंने भाजपा के सभी नेताओं से अनुरोध किया है कि ऐसी स्थिति में हमें ज्यादा बोले बगैर चुपचाप राजनीतिक घटनाक्रमों को देखना चाहिए.’

भाषा
Updated: June 26, 2018, 8:30 PM IST
कर्नाटक के हालातों का फायदा नहीं उठाएगी बीजेपी: येदियुरप्पा
File photo of Karnataka BJP chief BS Yeddyurappa
भाषा
Updated: June 26, 2018, 8:30 PM IST
कर्नाटक भाजपा प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस- जेडी(एस) गठबंधन में चल रही चीजों को चुपचाप देखगी. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी भ्रामक स्थिति का फायदा उठाने की कोशिश नहीं करेगी. पार्टी इसकी बजाय 2019 के लोकसभा चुनाव पर ध्यान केंद्रित करेगी.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मिलने के लिए अहमदाबाद की अचानक यात्रा के बाद येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी पार्टी एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभाएगी और लोकसभा चुनाव में राज्य में अधिक से अधिक सीटें हासिल करने पर ध्यान देगी.

उन्होंने कहा, ‘भ्रामक स्थिति है, सिद्धारमैया ( कांग्रेस विधायक दल के नेता) कुछ बयान देते हैं और कुमारस्वामी ( मुख्यमंत्री) कुछ और बयान देते हैं. इस भ्रामक स्थिति में हम हस्तक्षेप नहीं करना चाहते.’

येदियुरप्पा ने कहा, ‘मैंने भाजपा के सभी नेताओं से अनुरोध किया है कि ऐसी स्थिति में हमें ज्यादा बोले बगैर चुपचाप राजनीतिक घटनाक्रमों को देखना चाहिए.’

गौरतलब है कि येदियुरप्पा की अहमदाबाद यात्रा ने इन अटकलों को हवा दी कि कांग्रेस के कई असंतुष्ट विधायक उनसे संपर्क में हैं और भाजपा में जाने को तैयार हैं,  भगवा पार्टी राज्य में फिर से सरकार बनाने की कोशिश कर सकती है.

अपनी यात्रा पर स्पष्टीकरण देते हुए भाजपा नेता ने कहा कि वह शाह को पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की 29 जून की बैठक के लिए आमंत्रित करने गए थे. बैठक में राज्य के राजनीतिक घटनाक्रमों और आगामी लोकसभा चुनावों की तैयारियों पर चर्चा की जाएगी.

येदियुरप्पा ने कहा कि उनकी पार्टी का राजनीतिक अनिश्चितता से कोई लेना देना नहीं है और कहा कि मीडिया की अटकलों का कोई आधार नहीं है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस- जेडी(एस) एक दूसरे से लड़ रहे हैं. एक पूर्ण बजट पेश करने सहित कई मुद्दों पर दोनों के बीच मतभेद उभर कर सामने आए हैं.

मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के पास वित्त विभाग का भी प्रभार है. वे पांच जुलाई को पहला बजट पेश करने वाले हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर