लाइव टीवी

भारत-पाक सीमा पर ड्रोन के खतरों से निपटने के लिए बीएसएफ ले रहा तकनीकी सहारा : डीजी

भाषा
Updated: December 1, 2019, 3:38 PM IST
भारत-पाक सीमा पर ड्रोन के खतरों से निपटने के लिए बीएसएफ ले रहा तकनीकी सहारा : डीजी
सेना के जवान. (फाइल फोटो)

बीएसएफ (BSF) के एक शिविर में सुरक्षा बल के 55वें स्थापना दिवस समारोह में जौहरी ने कहा कि हाल के समय में कश्मीर (Kashmir) में नियंत्रण रेखा और पंजाब (Punjab) में अंतरराष्ट्रीय सीमा 'काफी संवेदनशील' हो गई हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच पिछले काफी दिनों से चले आ रहे तनाव को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल (BSF) के महानिदेशक वीके जौहरी ने बताया कि सुरक्षा बल भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा (India Pakistan border) पर ड्रोन (drone) के खतरे से निपटने के लिए तकनीकी समाधान पर काम कर रहा है.

जौहरी ने बताया कि बल ने पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ लगती 6,386 किलोमीटर लंबी सीमाओं की रक्षा करने के लिए नई प्रौद्योगिकी और खुफिया तंत्र का इस्तेमाल कर 'रणनीतिक क्षमताओं' का विस्तार किया है. यहां बीएसएफ के एक शिविर में सुरक्षा बल के 55वें स्थापना दिवस समारोह में जौहरी ने कहा कि हाल के समय में कश्मीर में नियंत्रण रेखा और पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा 'काफी संवेदनशील' हो गई हैं.

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से पाकिस्तान से लगी पश्चिमी सीमा पर ड्रोन से जुड़ी गतिविधियों की खबरें मिली हैं और इससे निपटने के लिए तकनीकी हल पर काम हो रहा है तथा महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं. बीएसएफ की स्थापना एक दिसंबर 1965 को हुई थी. आंतरिक सुरक्षा के अलावा बीएसएफ का मुख्य काम भारत-पाकिस्तान सीमा क्षेत्र की निगरानी करना है.

इसे भी पढ़ें :- भारत-पाक बॉर्डर एरिया में घूमने पर लगा प्रतिबंध, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

सेना प्रमुख ने सैनिकों से आक्रामक रहने को कहा
इससे पहले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को उधमपुर में भारतीय सेना के उत्तरी कमान मुख्यालय का दौरा किया और सैनिकों से कहा कि वे शत्रु की गतिविधियों के प्रति सतर्क और आक्रामक रहें. जनरल रावत ने क्षेत्र में काम कर रही सेना की उत्तरी कमान, वायुसेना, अर्द्धसैनिक बलों, नागरिक प्रशासन और केंद्रीय पुलिस बलों के बीच समन्वय की प्रशंसा की.

इसे भी पढ़ें :- भारत-पाकिस्‍तान सीमा पर तैनात की जाएगी सेना की पहली खास टुकड़ी IBG

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 3:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...