अपना शहर चुनें

States

संजय सिंह सहित AAP के 3 सांसद राज्यसभा से सस्पेंड, मार्शल की मदद से किए गए बाहर

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि राज्यसभा के भीतर सेलुलर फोन के उपयोग पर प्रतिबंध है. देखा गया है कि कुछ सदस्य अपने मोबाइल फोन का उपयोग सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने के लिए करते हैं, ऐसा आचरण संसदीय शिष्टाचार के खिलाफ है.
राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि राज्यसभा के भीतर सेलुलर फोन के उपयोग पर प्रतिबंध है. देखा गया है कि कुछ सदस्य अपने मोबाइल फोन का उपयोग सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने के लिए करते हैं, ऐसा आचरण संसदीय शिष्टाचार के खिलाफ है.

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि राज्यसभा के भीतर सेलुलर फोन के उपयोग पर प्रतिबंध है. देखा गया है कि कुछ सदस्य अपने मोबाइल फोन का उपयोग सदन की कार्यवाही को रिकॉर्ड करने के लिए करते हैं, ऐसा आचरण संसदीय शिष्टाचार के खिलाफ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 6:27 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राज्यसभा (Rajya Sabha) में बुधवार को आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के तीन सदस्यों संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता को सदन की कार्यवाही बाधित करने पर दिन भर के लिए निलंबित कर दिया गया. बाद में उन्हें मार्शल की मदद से सदन से बाहर किया गया.

सुबह, राज्यसभा में शून्यकाल समाप्त होने पर संजय सिंह ने आंदोलन कर रहे किसानों से जुड़ा मुद्दा उठाने का प्रयास किया. लेकिन सभापति एम वेंकैया नायडू ने उन्हें अनुमति नहीं दी और कहा कि सदस्य राष्ट्रपति अभिभाषण पर होने वाली चर्चा में अपनी बात रख सकते हैं.

चेताने के बाद भी जारी रहा विरोध
लेकिन इसके बाद भी आप सदस्यों ने नए कृषि कानूनों का विरोध जारी रखा और नारेबाजी शुरू कर दी. सभापति नायडू ने पहले उन्हें चेतावनी दी और सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चलने देने को कहा. उन्होंने कहा कि तीन सदस्य सदन की कार्यवाही को बाधित नहीं कर सकते.
बहरहाल आप सदस्यों का हंगामा जारी रहा और सभापति ने उन्हें नियम 255 के तहत दिन भर के लिए निलंबित कर दिया और तीनों सदस्यों को सदन से बाहर जाने को कहा. पर निलंबित सदस्यों ने आसन के निर्देश को स्वीकार नहीं किया और सदन में ही बने रहे.





इस पर सभापति ने नौ बजकर करीब 35 मिनट पर बैठक पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी.बैठक फिर शुरू होने पर सभापति नायडू ने तीनों सदस्यों को बाहर जाने का निर्देश दिया. इसके बाद उन्होंने मार्शल को बुला लिया. मार्शल की मदद से आप के तीनों सदस्यों को सदन से बाहर कर दिया गया.

निष्कासन और निलंबन के बाद  आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि हमने सदन में असहमति व्यक्त की.हम तीन कृषि कानूनों को निरस्त कराना चाहते हैं क्योंकि बातचीत से कोई हल नहीं निकल रहा है. हम तीनों को एक दिन के लिए निलंबित कर दिया गया है.

राज्यसभा सदस्यों को मोबाइल फोन पर सदन की कार्यवाही रिकॉर्डिंग करने पर चेताया
इसके साथ ही नायडू नेराज्यसभा के सदस्यों को सदन की कार्यवाही की मोबाइल फोन से रिकॉर्डिंग करने पर आगाह करते हुए कहा कि ऐसी अनधिकृत रिकॉर्डिंग और सोशल मीडिया पर उसका प्रसार संसदीय विशेषाधिकरों का हनन और सदन की अवमानना हो सकता है.

ज्ञात हो कि कुछ विपक्षी सदस्यों ने मंगलवार को कृषि विधेयकों को लेकर सदन में हो रहे हंगामे को अपने मोबाइल कैमरों में कैद किया और उन्हें सोशल मीडिया पर साझा भी किया. कुछ चैनलों ने इन्हें प्रसारित भी किया.

सदन की कार्यवाही बुधवार को आरंभ होते ही सभापति नायडू ने कहा कि संसदीय नियमों के मुताबिक राज्यसभा कक्ष में सैल्यूलर फोन का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता.

प्रसार संसदीय विशेषाधिकारों के हनन और सदन की अवमानना के दायरे में
उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा, 'ऐसा महसूस किया गया है कि कुछ सदस्य कक्ष में बैठकर सदन की कार्यवाही को अपने मोबाइल के कैमरों में रिकॉर्ड कर रहे हैं. यह संसदीय शिष्टाचार के खिलाफ है और सदस्यों से इसकी अपेक्षा नहीं की जाती.' उन्होंने कहा कि सदस्यों को कक्ष में ऐसी 'अवांछित' गतिविधियों से बचना चाहिए. सभापति ने कहा, 'ऐसी अनधिकृत रिकॉर्डिंग और सोशल मीडिया पर उनका प्रसार संसदीय विशेषाधिकारों के हनन और सदन की अवमानना के दायरे में आ सकता है.'

उन्होंने कहा कि मीडिया के जिस वर्ग ने इन वीडियो रिकॉर्डिंग का इस्तेमाल किया, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे ऐसा ना करें. नायडू ने कहा, 'यह अधिकृत नहीं है. इसके इस्तेमाल के परिणामों के लिए वे खुद जिम्मेदार होंगे.' उन्होंने उम्मीद जताई कि सदस्य इन नियमों का पालन करेंगे और सदन की गरिमा को बनाए रखेंगे. उन्होंने कहा, 'सदन के नियमों के प्रति सदस्यों को ईमानदार होना है. इसलिए उन्हें सावधान रहने की जरूरत है. मैं उम्मीद करता हूं कि सभी सदस्य नियमों का पालन करेंगे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज