बंगाल में बुलबुल चक्रवात से 23,811 करोड़ रुपये का नुकसान: रिपोर्ट

बंगाल में बुलबुल चक्रवात से 23,811 करोड़ रुपये का नुकसान: रिपोर्ट
चक्रवातीय तूफान बुलबुल के चलते बंगाल में 23,811 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है.

केन्द्रीय दल के सदस्यों को पश्चिम बंगाल (West Bengal) के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा के साथ सचिवालय में एक बैठक के दौरान यह रिपोर्ट सौंपी गयी और अलग से एक रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी जाएगी.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में चक्रवात ‘बुलबुल’ (Bulbul Cyclone) से 23,811 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. वहीं राज्य के तीन जिलों में लगभग 35 लाख लोग प्रभावित हुए. राज्य सरकार द्वारा चक्रवात ‘बुलबुल’ से हुए नुकसान के संबंध में शनिवार को केंद्र सरकार की एक टीम को सौंपी एक रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है.

केन्द्रीय दल के सदस्यों को पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा के साथ सचिवालय में एक बैठक के दौरान यह रिपोर्ट सौंपी गयी और अलग से एक रिपोर्ट केन्द्र सरकार को भेजी जाएगी. दल के सदस्यों ने शनिवार को राज्य सरकार के अधिकारियों से मुलाकात की.

राज्य के तीन जिलों में लगभग 35 लाख लोग प्रभावित हुए.




चक्रवात प्रभावित इलाकों का दौरा
बता दें कि शुक्रवार को केंद्रीय टीम ने  नुकसान का आकलन करने के लिए चक्रवात प्रभावित उत्तरी और दक्षिणी 24 परगना तथा पूर्वी मिदनापुर जिलों का दौरा किया था. एक वरिष्ठ अधिकारी ने रिपोर्ट के हवाले से कहा, "राज्य को बुलबुल चक्रवात से प्रभावित तीन जिलों में कुल 23,811 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है, जहां 35 लाख लोग सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं. चक्रवात में 5,17,535 घर तबाह हो गए."

गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ पश्चिम बंगाल में 10 नवंबर को दस्तक दे चुका है. रविवार सुबह तक तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई, जिससे शहर के कई हिस्सों और राज्य के तटीय जिलों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया. बुलबुल तूफान के कारण बंगाल में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है.

चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ पश्चिम बंगाल में 10 नवंबर को पहुंचा.


बशीरहाट और 24 परगना जिले अधिक प्रभावित
चक्रवात से गंभीर रूप से प्रभावित राज्य के इलाके- बशीरहाट और उत्तर 24 परगना जिले में बारिश से जुड़ी घटनाओं में जिन आठ लोगों की मौत हुई है, उनमें बशीरहाट और हिंगलगंज में दो-दो, जबकि संदेशखाली, गोसाबा और नंदीग्राम में तीन महिलाओं ने अपनी जान गंवा दी.

ऑधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल’ के कारण मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अगले सप्ताह उत्तर बंगाल की अपनी यात्रा रद्द करने का फैसला किया है. वह सोमवार को नामखाना और बक्खाली के आस-पास प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगी.

चक्रवात के चलते कोलकाता में लगातार मूसलाधार बारिश हुई है. दक्षिण एवं उत्तर 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिलों के आस-पास के इलाकों में 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चली. चक्रवात ने वहां शनिवार करीब मध्यरात्रि दस्तक दिया था. सैकड़ों पेड़ों के उखड़ने से शहर के कई हिस्सों में सड़कें जाम रहीं, हालांकि खराब मौसम के बावजूद कई लोग रविवार को अपने-अपने घरों से निकले.

ये भी पढ़ें: 

ADMM प्लस की मीटिंग में शामिल होने बैंकॉक पहुंचे राजनाथ सिंह

मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, अब घरेलू उद्योगों को नहीं लेना होगा NOC
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज