Home /News /nation /

बुंदेलखंड के लोगों को मोदी कैबिनेट ने दी बड़ी सौगात, केन बेतवा परियोजना को मिली मंजूरी

बुंदेलखंड के लोगों को मोदी कैबिनेट ने दी बड़ी सौगात, केन बेतवा परियोजना को मिली मंजूरी

PM Narendra modi  (फाइल फोटो)

PM Narendra modi (फाइल फोटो)

Ken-Betwa River Interlinking Project: केंद्र सरकार का दावा है कि इस परियोजना से बुंदेलखंड में सामाजिक और आर्थिक विकास होगा. सरकार का दावा है कि इससे पेयजल की समस्या खत्म होगी साथ ही साथ ग्राउंडवाटर रिचार्ज भी होगा. इस परियोजना से कुल 10 लाख 62 हजार हेक्टेयर भूमि की सिंचाई होगी. केन बेतवा परियोजना के फायदे को बताते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इससे बुंदेलखंड को फायदा मिलेगा. इस परियोजना से उत्तर प्रदेश के बांदा, महोबा, झांसी और ललितपुर जिले को फायदा मिलेगा. इसके साथ ही साथ मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ पन्ना, छतरपुर, दमोह, सागर और दतिया जिले को फायदा होगा

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बुंदेलखंड के लोगों को बड़ी सौगात दी है. केंद्रीय कैबिनेट ने केन बेतवा लिंक परियोजना (Ken-Betwa River Interlinking Project) को अपनी मंजूरी दे दी है. माना जा जा रहा है कि इसके कारण बुंदेलखंड की आर्थिक और सामाजिक दशा और दिशा दोनों में परिवर्तन होगा. सरकार इस परियोजना के माध्यम से पनबिजली भी बनाने जा रही है साथ ही साथ सोलर ऊर्जा का भी उत्पादन किया जाएगा.

केंद्रीय कैबिनेट के फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय कैबिनेट ने केन बेतवा परियोजना को मंजूरी दे दी है. अनुराग ठाकुर का कहना है कि इस परियोजना में 44605 करोड़ों रुपये खर्च होंगे और इसका 90 फ़ीसदी हिस्सा केंद्र सरकार वहन करेगी. इस परियोजना में 176 किलोमीटर की लिंक कनाल का निर्माण किया जाएगा जिस से चीन और बेतवा नदी को जोड़ा जा सके. इसके साथ ही साथ अनुराग ठाकुर का कहना है कि इस परियोजना को 8 साल में पूरा कर लिया जाएगा.

उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश को होगा इसका फायदा
केन बेतवा परियोजना के फायदे को बताते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इससे बुंदेलखंड को फायदा मिलेगा. इस परियोजना से उत्तर प्रदेश के बांदा, महोबा, झांसी और ललितपुर जिले को फ़ायदा मिलेगा. इसके साथ ही साथ मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ पन्ना, छतरपुर, दमोह, सागर और दतिया जिले को फायदा होगा. इसके साथ ही साथ मध्य प्रदेश के शिवपुरी रायसेन और विदिशा जिले में भी जल की आपूर्ति की जाएगी.

केंद्र सरकार का दावा है कि इस परियोजना से बुंदेलखंड में सामाजिक और आर्थिक विकास होगा. सरकार का दावा है कि इससे पेयजल की समस्या खत्म होगी साथ ही साथ ग्राउंडवाटर रिचार्ज भी होगा. इस परियोजना से कुल 10 लाख 62 हजार हेक्टेयर भूमि की सिंचाई होगी. साथ ही साथ लगभग 62 लाख लोगों तक पीने का पानी पहुंचाया जा सकेगा. इसमें से 811000 हेक्टेयर सिंचाई भूमि मध्य प्रदेश से है बाकी की भूमि उत्तर प्रदेश की होगी.

इस परियोजना से यूपी में 126000 हेक्टेयर भूमि की अतिरिक्त सिंचाई की जाएगी. इसी प्रोजेक्ट में 103 मेगावाट पनबिजली भी पैदा की जाएगी. साथ ही साथ 27 मेगा वाट सोलर उर्जा भी बनाई जाएगी. गौरतलब है कि नदियों को जोड़ने की परियोजना की परिकल्पना अटल सरकार में ही की गई लेकिन यूपीए सरकार के दौरान इस परियोजना पर बहुत ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया लेकिन मोदी सरकार ने नदियों को जोड़ने की परियोजना को फिर से अपने मुख्य एजेंडे में शामिल किया है

Tags: Ken Betwa Link Project, PM Modi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर