100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में शाहीन बाग की बिल्किस दादी का नाम, TIME ने बताया आइकन

सीएए प्रोटेस्ट का चेहरा बनकर उभरीं बिल्किस दादी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं.
सीएए प्रोटेस्ट का चेहरा बनकर उभरीं बिल्किस दादी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं.

पिछले साल मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) पास किया था, जिसके बाद पूरे देशभर में प्रदर्शन हुआ था. लेकिन शाहीन बाग (Shaheen Bagh) का प्रदर्शन इस पूरे आंदोलन की पहचान बना था. 82 वर्षीय बिल्किस दादी(Bilkis Dadi) उस वक्त सुर्खियों में आईं थीं, जब उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग आंदोलन में धरना पर बैठकर ध्यान आकर्षित किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 2:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित मानी जाने वाली इंटरनेशनल मैगजीन TIME ने इस साल दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों (TIME 100 Most Influential People) की सूची जारी कर दी है. इस लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत दिग्गजों का नाम है. लेकिन, जिस नाम की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है, वो हैं बिल्किस दादी (Bilkis Dadi). 82 साल की बिल्किस दादी नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में कई दिनों तक चले धरना प्रदर्शन में चर्चा में आईं. टाइम मैग्जीन ने बिल्किस दादी को आइकन बताया है. बिल्किस दादी को शाहीन बाग की दादी के नाम से भी जाना जाता है.

पिछले साल मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन एक्ट पास किया था, जिसके बाद पूरे देशभर में प्रदर्शन हुआ था. लेकिन शाहीन बाग का प्रदर्शन इस पूरे आंदोलन की पहचान बना था. 82 वर्षीय बिल्किस दादी उस वक्त सुर्खियों में आईं थीं, जब उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग आंदोलन में धरना पर बैठकर ध्यान आकर्षित किया था.

दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में PM मोदी का नाम, आयुष्मान खुराना को भी मिली जगह



सीएए प्रोटेस्ट का चेहरा बनकर उभरीं बिल्किस दादी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की रहने वाली हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उनके पति करीब 10-11 साल पहले गुजर हैं. जिसके बाद बिल्किस दिल्ली आ गईं. अब वह शाहीन बाग इलाके में अपने बहू-बेटों के साथ रहती हैं.

शाहीन बाग पर नियुक्त वार्ताकारों को दिया था बेबाकी से जवाब
जब शाहीन बाग में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा नियुक्‍त वार्ताकार बात करने के लिए वहां पहुंचे थे, तब बिल्‍किस बानो ने बेबाकी से अपनी राय रखी थी. उन्होंने कहा था कि गृहमंत्री कहते हैं हम एक इंच नहीं हटेंगे तो मैं कहती हूं हम एक बाल बराबर नहीं हटेंगे. इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था कि हम (सरकार) सीएए को लेकर पीछे नहीं हटेगी. कई बार सभाओं में अमित शाह ने कहा था कि हम पीड़ित शरणार्थियों की मदद के लिए इसे लागू करेंगे और एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे.

TIME की लिस्ट में और किनका है नाम?
इस लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ और भी कई भारतीयों के नाम शामिल हैं. इसमें गूगल सीईओ सुंदर पिचाई, एक्टर आयुष्मान खुराना, एचआईवी सेजुड़ी रिसर्च करनेवाले रविंद्र गुप्ता का नाम भी है. वहीं, अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस का नाम भी इस लिस्ट में है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज