CAA: सुब्रमण्यम स्वामी बोले- परवेज मुशर्रफ चाहें तो ले सकते हैं भारतीय नागरिकता

बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर ट्वीट किया है.
बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर ट्वीट किया है.

बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा है कि परवेज मुशर्रफ (Pervez Musharraf) दिल्ली के दरियागंज के रहने वाले हैं और पाकिस्तान में उत्पीड़न का सामना कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2019, 12:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर पूरे देश में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व राष्ट्रपति और मौत की सजा पा चुके परवेज मुशर्रफ (Pervez Musharraf) को भारत की नागरिकता देने की बात कही है. स्वामी ने कहा है कि परवेज मुशर्रफ दिल्ली के दरियागंज के रहने वाले हैं और पाकिस्तान में उत्पीड़न का सामना कर रहे हैं.

बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर कहा है कि जिस तरह से पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री परवेज मुशर्रफ को परेशान किया जा रहा है उसके बाद हम फास्ट ट्रैक के आधार पर उन्हें नागरिकता दे सकते हैं. मुशर्रफ क्योंकि दरियागंज से हैं और इस समय पाकिस्तान में उत्पीड़न का सामना कर रहे हैं. खुद को हिंदुओं का वंशज मानने वाले सभी लोग नए नागरिकता संशोधन कानून के लिए योग्य हैं और उन्हें नागरिकता दी जाए.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को राष्ट्रद्रोह के मामले में मौत की सज़ा सुनाई गई है. पेशावर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश वकार अहमद सेठ की अध्यक्षता में विशेष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने 76 वर्षीय मुशर्रफ को लंबे समय से चल रहे देशद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई. ये मामला 2007 में संविधान को निलंबित करने और देश में आपातकाल लगाने का है जो दंडनीय अपराध है. बेंच ने अपने संक्षिप्त आदेश में कहा कि उसने इस मामले में तीन महीने तक तमाम शिकायतों, रिकॉर्ड्स, जिरह और तथ्यों की जांच की और पाकिस्तान के संविधान के अनुच्छेद 6 के मुताबिक मुशर्रफ को देशद्रोह का दोषी पाया है. उन पर संविधान से छेड़छाड़ का आरोप लगा है.
इसे भी पढ़ें :- जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी हिंसा के पीछे विदेशी साजिश: सुब्रमण्यम स्वामी



अभी हॉस्पिटल में परवेज मुशर्रफ
इन दिनों परवेज मुशर्रफ दुबई में हैं. उन्हें हार्ट और ब्लड प्रेशर संबंधी' समस्या की शिकायत के बाद 3 दिसंबर को दुबई के एक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. 76 वर्षीय पूर्व राष्ट्रपति को स्ट्रेचर पर हॉस्पिटल लाया गया था. परवेज मुशर्रफ साल 2001 से 2008 तक पाकिस्तान के राष्ट्रपति रहे हैं. साल 2008 में वो देश छोड़ कर चले गए थे. इसके बाद वो मार्च 2013 में पाकिस्तान लौटे थे.

इसे भी पढ़ें :- JNU को 2 साल के लिए कर देना चाहिए बंद: सुब्रमण्यम स्वामी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज