Home /News /nation /

Bengal Firecrackers Ban : दिवाली और छठ पर पटाखों की बिक्री पर लगेगी रोक, कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिया आदेश

Bengal Firecrackers Ban : दिवाली और छठ पर पटाखों की बिक्री पर लगेगी रोक, कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिया आदेश

अदालत ने 2020 में भी पटाखों पर पाबंदी लगाई थी. (फाइल फोटो)

अदालत ने 2020 में भी पटाखों पर पाबंदी लगाई थी. (फाइल फोटो)

West Bengal Firecrackers Ban : इस आदेश ने पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (West Bengal Pollution Control Board) की एक हालिया अधिसूचना को निष्प्रभावी कर दिया है जिसमें दिवाली और काली पूजा पर सीमित समय के लिए ‘हरित’ पटाखे चलाने की अनुमति दी गयी थी. उच्च न्यायालय (High Court) की पीठ ने आतिशबाजी पर रोक लगाने के अनुरोध वाली याचिका पर यह आदेश सुनाया.

अधिक पढ़ें ...

    कोलकाता : दिवाली आने वाली है और यह पटाखों और रोशनी का त्योहार है. हर साल दिवाली (Diwali 2021) के बाद प्रदूषण (Pollution) की सबसे बड़ी समस्या सामने आती है. त्योहार में जलने वाले पटाखों का गुबार हर साल आसमान में छाता है जिसका बेहद बुरा असर स्वास्थ्य पर पड़ता है. इस समय पूरा देश कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से उबरने की कोशिश में लगा हुआ है ऐसे में दिवाली के बाद प्रदूषण की समस्या से बचने के लिए कलकत्ता हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को पटाखे न जलाए जाएं इसके लिए एक बड़ा आदेश दिया है.

    कलकत्ता उच्च न्यायालय (Calcutta High Court) ने कोविड-19 महामारी (covid-19 pandemic) के बीच वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए शुक्रवार को दिवाली, छठ पूजा और अन्य त्योहारों के अवसर पर पटाखों की बिक्री और उनके उपयोग पर रोक लगाने का आदेश दिया.

    न्यायमूर्ति सब्यसाची भट्टाचार्य और न्यायमूर्ति अनिरुद्ध रॉय की खंडपीठ ने पुलिस को निर्देश दिया कि प्रतिबंध का उल्लंघन करते हुए कोई व्यक्ति पाया जाता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाए और पटाखे जब्त कर लिए जाएं.

    यह भी पढ़ें- चीन को सबक सिखाने के लिए भारत अरुणाचल की सीमा पर बसा रहा 3 मॉडल विलेज, जानें क्‍यों है खास

    यह भी पढ़ें- महाकाल मंदिर में मुस्लिम युवक के दर्शन पर बवाल, संतों ने किया विरोध; मंदिर समिति ने दी सफाई

    इस आदेश ने पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की एक हालिया अधिसूचना को निष्प्रभावी कर दिया है जिसमें दिवाली और काली पूजा पर सीमित समय के लिए ‘हरित’ पटाखे चलाने की अनुमति दी गयी थी. उच्च न्यायालय की पीठ ने आतिशबाजी पर रोक लगाने के अनुरोध वाली याचिका पर यह आदेश सुनाया. अदालत ने 2020 में भी पटाखों पर पाबंदी लगाई थी.

    Tags: Calcutta high court, COVID 19, COVID-19 pandemic, Firecrackers

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर