• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • BSF का दायरा बढ़ाने पर कैप्टन ने थपथपाई केंद्र सरकार की पीठ, मुश्किल में सीएम चन्नी

BSF का दायरा बढ़ाने पर कैप्टन ने थपथपाई केंद्र सरकार की पीठ, मुश्किल में सीएम चन्नी

केंद्र सरकार ने पंजाब, बंगाल और असम में बीएसएफ को भारतीय इलाके में 50 किमी अंदर तक कार्रवाई का अधिकार मिल गया है.

केंद्र सरकार ने पंजाब, बंगाल और असम में बीएसएफ को भारतीय इलाके में 50 किमी अंदर तक कार्रवाई का अधिकार मिल गया है.

चन्नी ने ट्वीट किया, वह अंतरराष्ट्रीय सरहद पर बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र में 50 किलोमीटर तक की वृद्धि को लेकर भारत सरकार के इस एकतरफा फैसले की सख्त निंदा करते हैं.

  • Share this:

    चंडीगढ़. पंजाब के सीमावर्ती इलाकों (Border areas of Punjab) में सीमा सुरक्षा बल (Border security forces BSF) का दायरा 50 किमी तक बढ़ाने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Chief Minister Captain Amarinder Singh) ने जहां केंद्र सरकार की पीठ थपथपाई है वहीं अब हाल ही में सीएम बने चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) सवालों के घेरे में आ गए है. उनके अपने ही वरिष्ठ नेताओं ने केंद्र सरकार के इस फैसले पर चन्नी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं.

    केंद्र सरकार के इस फैसले से सरहदी जिले पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, तरनतारन, फिरोजपुर, फाजिल्का तकरीबन पूरे बीएसएफ की जद में आ जाएंगे. दरअसल चरणजीत चन्नी 5 अक्टूबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) से मिले थे और उन्होंने सरहद पार से हथियारों व ड्रग्स की तस्करी को रोकने के लिए सरहदों को सील करने की मांग उठाई थी. विपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अब ताजा घटनाक्रम को उनकी इस मुलाकात से जोड़ कर देख रहे हैं और उनकी आलोचना कर रहे हैं.

    हालांकि कांग्रेस से दूरियों को कायम रखते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र के इस फैसले को सही करार दिया है और कहा है कि राजनीतिक दलों को इस मसले में बीएसएफ को राजनीति में घसीटने की जरूरत नहीं है. सोशल मीडिया पर मामले को लेकर आलोचना भी हो रही है.

    अमरिंदर की ओर से ट्वीट करते हुए उनके मीडिया सलाहकार ने पोस्ट किया कि कश्मीर में हमारे जवान मारे जा रहे हैं. हम देख रहे हैं कि अधिक से अधिक हथियार और नशीले पदार्थ पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों द्वारा पंजाब में धकेले जा रहे हैं. बीएसएफ की बढ़ी उपस्थिति और शक्तियां ही हमें और मजबूत करेंगी. आइए केंद्रीय सशस्त्र बलों को राजनीति में न घसीटें. उधर  मुख्यमंत्री चन्नी ने केंद्रीय ग्रह मंत्रालय के ताज़ा फैसले को संघी ढांचे पर सीधा हमला बताया है.

    चन्नी ने ट्वीट किया, वह अंतरराष्ट्रीय सरहद पर बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र में 50 किलोमीटर तक की वृद्धि को लेकर भारत सरकार के इस एकतरफा फैसले की सख्त निंदा करते हैं.  उधर कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी (Congress MP Manish Tewari) ने ट्वीट किया कि केंद्र का निर्णय संवैधानिक सार्वजनिक व्यवस्था और राज्यों की पुलिस के अधिकारों का उल्लंघन करता है और इससे आधा पंजाब अब बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र में आ जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज