आपके घर तो नहीं पहुंच गया यह जहरीला सैनेटाइजर? CBI ने किया अलर्ट

(AP Photo/Rafiq Maqbool)
(AP Photo/Rafiq Maqbool)

CBI ने बताया कि देश में कई गिरोह काफी विषैले मेथानॉल (Methanol) के प्रयोग से बने हैंड सेनिटाइजर (Hand sanitzer) बेच रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 16, 2020, 11:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जांच एजेंसी केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानी सीबीआई (CBI) ने इंटरपोल (Interpol) से मिली जानकारी के आधार पर देश भर में पुलिस और कानून लागू करने वाली एजेंसियों को सतर्क किया है कि कई गिरोह काफी विषैले मेथानॉल (Methanol) के प्रयोग से बने हैंड सेनिटाइजर (Hand sanitzer) बेच रहे हैं और एक अन्य तरह का गिरोह भी काम कर रहा है जो खुद को पीपीई और कोरोना वायरस  (Coronavirus) से जुड़े मेडिकल सामानों का सप्लायर बताता है. यह जानकारी सोमवार को अधिकारियों ने दी.

अधिकारियों ने कहा कि इंटरपोल से सूचना मिलते हुए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने तुरंत पुलिस अधिकारियों को सतर्क किया कि गिरोह को लेकर सतर्क रहें जो इस तरीके से तुरंत पैसा कमाने में लगे हुए हैं. इंटरपोल का मुख्यालय लॉयन में है और भारत में उसके साथ समन्वय करने की जिम्मेदारी सीबीआई के पास है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी की चपेट में पूरी दुनिया के आने और विश्व की अर्थव्यवस्था नीचे आने के बीच कई संगठित आपराधिक समूह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उभर आए हैं जो अवैध गतिविधियों से धन कमा रहे हैं और कोरोना वायरस उपकरणों की कंपनियों के प्रतिनिधि बनकर ठगी कर रहे हैं.

मेथानॉल काफी विषैला होता है
एजेंसी के सूत्रों ने कहा कि कुछ अपराधी पीपीई किट और कोरोना वायरस से जुड़े उपकरणों के निर्माता के प्रतिनिधि बनकर अस्पतालों और स्वास्थ्य अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं. इस तरह के सामान की कमी का लाभ उठाते हुए वे अधिकारियों और अस्पतालों से ऑनलाइन भुगतान हासिल कर लेते हैं लेकिन पैसे लेने के बाद वे सामान की सप्लाई नहीं करते हैं.
अधिकारियों ने बताया कि वैश्विक पुलिस सहयोग एजेंसी इंटरपोल ने जानकारी दी है कि मेथानॉल का इस्तेमाल कर फर्जी हैंड सेनिटाइजर बनाया जा रहा है. मेथानॉल काफी विषैला पदार्थ होता है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के दौरान जहरीले हैंड सेनिटाइजर के इस्तेमाल के बारे में दूसरे देशों से भी सूचनाएं प्राप्त हुई हैं. एक अधिकारी ने बताया, ‘मेथानॉल काफी विषैला हो सकते हैं और मानव शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं.’ (एजेंसी इनपुट के साथ)



यह भी पढ़ें:  कोरोना के इलाज में निजी अस्पताल नहीं ऐंठ पाएंगे मनमानी फीस, केंद्र ने राज्यों को दिया नया निर्देश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज