भगोड़े मेहुल चोकसी को भारत लाने के मिशन पर CBI और ED की टीम

मेहुल चौकसी को भारत लाने की कवायद तेज हो गई है.

मेहुल चौकसी को भारत लाने की कवायद तेज हो गई है.

Mehul Choksi Case: सूत्रों के मुताबिक एक प्राइवेट जेट CBI और ED के जांच अधिकारियों समेत भारत सरकार के कुछ अधिकारियों को लेकर बीते शनिवार की दोपहर डॉमिनिका के डगलस चार्ल्स हवाई अड्डे पहुंच गया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. 13578 करोड़ के PNB स्कैम के आरोपी और भगोड़े मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) को भारत लाने के मिशन पर CBI और ED की टीम निकली हैं. कॉमनवेल्थ ऑफ डॉमिनिका (Commonwealth of Dominica) की कोर्ट में बुधवार 2 जून को चोकसी को बाहर भेजने की याचिका पर होने वाली सुनवाई के लिए ये टीम कोर्ट में मौजूद रहेगी. डॉमिनिका गई CBI और ED दोनों ही टीमों में मुंबई ज़ोन के जांच अधिकारी मौजूद हैं. मेहुल चोकसी की लीगल टीम की याचिका पर कॉमनवेल्थ ऑफ डॉमिनिका की कोर्ट ने 2 जून तक मेहुल चोकसी को डॉमिनिका से बाहर ले जाने पर पाबंदी लगा दी थी.

दरअसल चोकसी की लीगल टीम ने डॉमिनिका की कोर्ट में हेबियस कार्पस पिटीशन फ़ाइल किया था जिसमे मेहुल चोकसी से मिलने की इजाज़त नहीं दिए जाने का जिक्र था. पिटीशन में मेहुल चोकसी को कानूनी सहायता के संवैधानिक अधिकार से वंचित रखे जाने का भी जिक्र किया गया था. इससे पहले कॉमनवेल्थ ऑफ डॉमिनिका में मेहुल चोकसी के पकड़े जाने की खबर के तुरंत बाद भारत सरकार हरकत में आ गयी थी.

ये भी पढ़ें- आयोग्य सेतु ऐप में अब यूजर वैक्सीनेशन को लेकर अपडेट कर सकते है! सर्टिफिकेट डाउनलोड करने की सुविधा भी जल्द

सूत्रों के मुताबिक एक प्राइवेट जेट CBI और ED के जांच अधिकारियों समेत भारत सरकार के कुछ अधिकारियों को लेकर बीते शनिवार की दोपहर डॉमिनिका के डगलस चार्ल्स हवाई अड्डे पहुंच गया था. एंटिगा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने इसकी तस्दीक की थी. ये बॉम्बार्डियर ग्लोबल 5000 जेट था. हालांकि ये दोनों जांच एजेंसियां इस बावत आधिकारिक तौर पर कुछ भी बोलने से बच रही हैं.
तमाम दस्तावेजों के साथ पहुंचे हैं जांच अधिकारी

CBI और ED की जांच अधिकारियों की टीम अपने साथ चोकसी की जांच से जुड़े तमाम दस्तावेजों के साथ डॉमिनिका पहुंची है. ये दस्तावेज कोर्ट में पेश किए जाएंगे और कोर्ट को बताया जायेगा कि मेहुल चोकसी भारत में PNB स्कैम का आरोपी और भगोड़ा है. लिहाज़ा उसे भारत भेजा जाए. चोकसी को पिछले बुधवार को डॉमिनिका में गिरफ्तार किया गया था.

ये भी पढ़ें- दुल्हन की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव, तो PPE किट पहनकर दूल्हे संग लिए सात फेरे



मिनिस्ट्री ऑफ नेशनल सिक्योरिटी एंड होम अफेयर्स, डॉमिनिका ने अवैध तरीके से डॉमिनिका में घुसने के आरोप में मेहुल चोकसी को गिरफ्तार किया था. इसके बाद सलाखों के पीछे आंखों में सूजन और हाथों में चोट के साथ मेहुल चोकसी की तस्वीर भी सामने आई थी. फरार होने के बाद मीडिया में आने वाली ये मेहुल चोकसी की पहली तस्वीर थी. जानकारी के मुताबिक चोकसी समुद्र के रास्ते अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने डॉमिनिका गया था.



मेहुल चोकसी के वकील विजय अग्रवाल के मुताबिक "ये बहुत हास्यास्पद है. एक फर्स्ट ईयर लॉ स्टूडेंट भी ये जानता है कि सिटीजनशिप एक्ट के सेक्शन 9 के मुताबिक़ जैसे ही कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश की नागरिकता ले लेता है, वो भारत का नागरिक नहीं रह जाता है. हमलोग किसी राशन कार्ड नहीं बल्कि सिटीजनशिप की बात कर रहे हैं."

बहरहाल 2 जून यानी बुधवार को कॉमनवेल्थ ऑफ डॉमिनिका की कोर्ट में होने वाले डेवेलपमेंट पर एजेंसियों की नज़र है जिसके बाद CBI और ED आगे की रणनीति तय करेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज