सोलर प्लांट से जुड़े प्रोजेक्ट के लिए रिश्वत लेने के आरोप में NTPC का मैनेजर गिरफ्तार

सीबीआई ने जोधपुर से एनटीपीसी के मैनेजर को गिरफ्तार किया है (सांकेतिक तस्वीर)
सीबीआई ने जोधपुर से एनटीपीसी के मैनेजर को गिरफ्तार किया है (सांकेतिक तस्वीर)

सीबीआई (CBI) द्वारा गिरफ्तार आरोपी अधिकारी का नाम ओम प्रकाश है. ये शख्स सोलर प्लांट (Solar Plant) से जुड़े प्रोजेक्ट के लिए साढ़े तीन लाख रूपये की रिश्वत की मांग कर रहा था.

  • Share this:
जोधपुर. केन्द्रीय जांच एजेंसी सीबीआई (CBI) की टीम ने राजस्थान (Rajasthan) के जोधपुर (Jodhpur) में स्थित एनटीपीसी (NTPC) के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है. सीबीआई द्वारा गिरफ्तार आरोपी अधिकारी का नाम ओम प्रकाश है. ये शख्स सोलर प्लांट से जुड़े प्रोजेक्ट के लिए साढ़े तीन लाख रूपये की रिश्वत की मांग कर रहा था. यही नहीं ओम प्रकाश ने रिश्वत नहीं देने पर उस प्रोजेक्ट को पास नहीं करने का दावा भी किया था. इसी दौरान शिकायतकर्ता ने इस मामले की शिकायत सीबीआई से की और सीबीआई की टीम ने आरोपी अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी अधिकारी एनटीपीसी में मैनेजर पद पर काफी समय से कार्यरत है. जो जोधपुर के फलोदी इलाके में स्थित है.

सीबीआई को जब इस मामले की शिकायत की गई थी तब शिकायतकर्ता के द्वारा ये भी बताया गया था कि आरोपी मैनेजर ओम प्रकाश साढे़ तीन लाख रुपये की डिमांड कर रहा है. शिकायतकर्ता के द्वारा बहुत निवेदन करने के बाद भी वो उसके काम को नहीं कर रहा था और काम के बदले रिश्वत की मांग कर रहा था. शिकायतकर्ता ने अपनी लिखित तौर भेजी शिकायत में यह भी बताया था कि वह इस प्रोजेक्ट के लिए कोई घूस की रकम नहीं देना चाह रहा है और वह भ्रष्ट अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई चाहता है. इसी के आधार पर सीबीआई की टीम ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एफआईआर दर्ज करके इस मामले में आरोपी अधिकारी ओम प्रकाश को रिश्वत की एक लाख रुपये की रकम के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के बाद उसे वहां की स्थानीय सीबीआई की विशेष अदालत में पेश किया गया.

ये भी पढ़ें- बिहार चुनाव में 65 से अधिक उम्र के वोटर्स को नहीं मिलेगी पोस्टल बैलट सुविधा



कई जगहों पर सीबीआई ने की छापेमारी
सीबीआई की टीम ने आरोपी अधिकारी ओम प्रकाश को गिरफ्तार करने के बाद उसके आवास सहित अन्य लोकेशन पर छापेमारी की. छापेमारी के दौरान मिले कई महत्वपूर्ण दस्तावेज और सबूतों को सीबीआई की टीम ने अपने साथ लेकर गई है.

सीबीआई की टीम तमाम बैंक एकाउंट्स के डिटेल्स, प्रॉपर्टी से जुड़े कागजात सहित अन्य कई तरह की चल -अचल संपत्तियों से जुड़े दस्तावेज छापेमारी के बाद अपने साथ जब्त कर ले गई है. इस मामले में आने वाले दिनों में अगर कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है या अन्य लोगों की मामले में संलिप्तता का पता चलता है तो उनके खिलाफ भी मामला दर्ज किया जा सकता है और आगे की कार्रवाई की जा सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज