100 रुपये की घूस मांगी तो CBI ने डाक अधिकारियों को कर लिया गिरफ्तार

100 रुपये की घूस मांगी तो CBI ने डाक अधिकारियों को कर लिया  गिरफ्तार
आरोपी अधिकारी गोपाल कृष्ण माधव को पूछताछ के लिए तत्काल सीबीआई मुख्यालय ले जाया गया (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एक कमीशन एजेंट के पति ने सीबाआई (CBI) में शिकायत दर्ज कराई कि डाक अधीक्षकऔर डाक सहायक प्रत्येक बीस हजार रुपये जमा करने पर 100 रुपये की रिश्वत मांगते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली.  बड़े मामलों की छानबीन (Investigation) करने वाली एजेंसी सीबीआई (CBI) को लेकर एक हैरान कर देने वाली खबर आई है. दरअसल उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में एक कमीशन एजेंट से 100 रुपये की घूस मांगने के आरोप में सीबीआई ने डाक विभाग के दो अधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया है. जिसकी जानकारी खुद सीबीआई द्वारा जानकारी सोमवार को दी गई है.

दरअसल एक कमीशन एजेंट के पति ने सीबाआई में शिकायत दर्ज कराई कि डाक अधीक्षक संतोष कुमार सरोज और डाक सहायक सूरज मिश्रा प्रत्येक बीस हजार रुपये जमा करने पर 100 रुपये की रिश्वत मांगते हैं. सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘ हमारे लिए कोई बड़ा या छोटा मामला नहीं होता. हम सभी मामलों से एक समान रूप से निपटते हैं.’

सुविधा शुल्क के नाम मांगते थे घूस
शिकायतकर्ता ने कहा कि उसकी पत्नी गांवों से डाक विभाग के बचत खाते के लिए रकम एकत्र करती है और कुंडा प्रतापगढ़ के उप डाकघर में जमा रकम को सुपुर्द कर देती है तथा वह भी इस कार्य में उसकी मदद करता है . उसने आरोप लगाया कि पूर्व में जब वह रकम जमा करने गया तो दोनों डाक अधिकारियों ने रकम जमा करने के बदले सुविधा शुल्क के नाम पर 25 और 26 नवंबर को 500 रुपये और 300 रुपये लिए थे .
शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि दोनों ने प्रत्येक 20,000 रुपये जमा करने पर 100 रुपये देने या काम रोक देने को कहा. दोनों ने पैसे नहीं देने पर काम रोकने और गड़बड़ी करने की धमकी भी दी. सीबीआई के प्रवक्ता ने यहां एक बयान में बताया कि शिकायत के आधार पर जाल बिछाया गया और आरोपियों को रंगेहाथ पकड़ लिया गया.



प्रवक्ता ने कहा कि सीबीआई को जनता की शिकायत पर हस्तक्षेप करना पड़ा जहां गरीब ग्रामीणों को डाकखाने में अपना ही पैसा जमा करने पर रिश्वत देनी पड़ रही थी.

ये भी पढ़ें: 

कांग्रेस नेता शिवकुमार आयकर विभाग के अधिकारियों के सामने पेश हुए

NCR के रियल एस्टेट ग्रुप ने कबूल की 3000 करोड़ का काला धन होने की बात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading