लाइव टीवी

CBI ने पूर्व निदेशक को दी क्लीनचिट, कोर्ट ने कहा-आपने अपने अधिकारी का करियर खराब किया

News18Hindi
Updated: February 12, 2020, 6:23 PM IST
CBI ने पूर्व निदेशक को दी क्लीनचिट, कोर्ट ने कहा-आपने अपने अधिकारी का करियर खराब किया
राकेश अस्थाना पर अक्टूबर 2018 में एफआईआर दर्ज की थी. उन पर एक आरोपी को बचाने के लिए रिश्वत लेने का आरोप है. फाइल फोटो

दिल्ली की विशेष अदालत ने बुधवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (Central Bureau of Investigation) के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) से जुड़े रिश्वत के मामले में बुधवार को सुनवाई की. सूत्रों के अनुसार, मंगलवार को सीबीआई ने अपने आरोप पत्र में अस्थाना को क्लीन चिट दे दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2020, 6:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय जांच ब्यूरो (Central Bureau of Investigation) ने एजेंसी के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) से जुड़े रिश्वत के मामले में उन्हें क्लीन चिट दे दी. बुधवार को दिल्ली की विशेष अदालत ने सीबीआई के पूर्व विशेष निदेशक (स्पेशल डीजी) राकेश अस्थाना के खिलाफ रिश्वत लेने के मामले पर सुनवाई की. सीबीआई की ओर से पेश चार्जशीट में पूर्व स्पेशल डीजी और एक अन्य अधिकारी देवेंद्र कुमार का नाम 12वें कॉलम में लिखा गया. इसमें उन आरोपियों के नाम होते हैं, जिनके खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य न हों. इस पर कोर्ट ने सीबीआई को फटकार लगाते हुए कहा- आपने अपने ही एक अधिकारी का करियर उसके शुरुआती दिनों में ही खराब कर दिया.

बता दें कि सीबीआई ने दुबई के उद्योगपति एवं कथित बिचौलिये मनोज प्रसाद के खिलाफ मंगलवार को आरोपपत्र दायर किया. कोर्ट से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सीबीआई ने विशेष सीबीआई न्यायाधीश संजीव अग्रवाल के समक्ष दायर आरोपपत्र में अस्थाना को क्लीन चिट दी. एजेंसी ने रॉ प्रमुख एसके गोयल को मामले में पाक साफ करार दिया, जो इस मामले में जांच के घेरे में थे. सीबीआई के डीएसपी देवेंद्र कुमार को भी एजेंसी से क्लीन चिट मिल गई जिन्हें 2018 में गिरफ्तार किया गया था. अंतिम रिपोर्ट पर बुधवार को सुनवाई शुरू हुई.

राकेश अस्थाना पर अक्टूबर 2018 में एफआईआर दर्ज
सीबीआई ने राकेश अस्थाना पर अक्टूबर 2018 में एफआईआर दर्ज की थी. उन पर एक आरोपी को बचाने के लिए रिश्वत लेने का आरोप है. सीबीआई ने उनके खिलाफ हैदराबाद के व्यापारी सतीश बाबू साना की शिकायत पर मामला दर्ज किया था. साना ने कहा था कि उसने मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से जुड़े मामले में कार्रवाई से बचने के लिए अस्थाना को दो करोड़ रु. की रिश्वत दी थी. सीबीआई के मुताबिक, डीएसपी देवेंद्र कुमार ने राकेश अस्थाना के लिए रिश्वत की रकम स्वीकार की थी.

सीबीआई ने अस्थाना के खिलाफ मामला हैदराबाद के उद्योगपति सतीश सना की शिकायत पर दर्ज किया था जो 2017 के उस मामले में जांच का सामना कर रहा था जिसमें मांस निर्यातक मोइन कुरैशी कथित तौर पर शामिल था.सना ने आरोप लगाया था कि अधिकारी ने उसे क्लीन चिट में मदद की थी.

यह भी पढ़ें...

38 हजार वोट भी नहीं हासिल कर सके ट्विटर पर 6.5 लाख फॉलोवर वाले तजिंदर बग्गादिल्‍ली: भजनपुरा में एक ही घर से मिले परिवार के 5 लोगों के शव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 6:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर