Home /News /nation /

cbi gets 4 days remand of s bhaskar raman karti chidambaram close associate visa scam lak

वीजा घोटाले में 4 दिन की CBI रिमांड पर भास्कर रमन, कार्ति चिदंबरम पर भी लटकी तलवार!

एक दिन पहले सीबीआई ने भास्कर रमन को गिरफ्तार किया था. (फाइल फोटो)

एक दिन पहले सीबीआई ने भास्कर रमन को गिरफ्तार किया था. (फाइल फोटो)

Bhaskar raman in 4 day CBI remand: सांसद कार्ति चिदंबरम के निकट सहयोगी भास्कर रमन को चार दिनों की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया. भास्कर रमन पर आरोप है कि उसने 263 चीनी नागरिकों से घूस लेकर उन्हें प्रोजेक्ट वीजा दिलवाया. जिस समय चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाया जाता था, उस समय केंद्र में पी चिदंबरम गृह मंत्री थे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. चीनी नागरिकों को अवैध वीजा दिलवाने के मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के पुत्र और सांसद कार्ति चिदंबरम पर शिकंजा कसता जा रहा है. सीबीआई को कार्ति चिदंबरम के निकट सहयोगी और चार्टर्ड अकाउटेंट भास्कर रमन की चार दिन की रिमांड मिल गई है. चार दिन की रिमांड के दौरान सीबाआई भास्कर रमन से पूछताछ करेगी. इससे एक दिन पहले सीबीआई ने भास्कर रमन को गिरफ्तार किया था. भास्कर रमन पर आरोप है कि उसने 263 चीनी नागरिकों से घूस लेकर उन्हें प्रोजेक्ट वीजा दिलवाया. जिस समय चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाया जाता था, उस समय केंद्र में पी चिदंबरम गृह मंत्री थे.

कार्ति चिदंबरम पर भी गिरफ्तारी की तलवार

इससे पहले सीबीआई ने भास्कर रमन को दिल्ली की एक विशेष अदालत में पेश किया. अदालत ने भास्कर रमन को चार दिन की सीबीआई रिमांड पर भेजने का निर्देश दिया. भास्कर रमन को सीबीआई ने कल ही गिरफ्तार किया था. इससे पहले 16 मई को सीबीआई ने वीजा घोटाले से संबंधित कार्ति चिदंबरम और उनके सहयोगियों के घर छापामारे की थी. सीबीआई ने इस केस में कार्ति चिदंबरम को प्रमुख आरोपी बनाया है. इसलिए अब शायद कार्ति चिदंबरम पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है.

पिता के मंत्री रहते 50 लाख लेकर 263 नागरिकों को वीजा दिलवाया
सीबीआई ने एक बिजली कंपनी के लिए 263 चीनी नागरिकों को वीजा प्राप्त करने में सहायता करने के 11 साल पुराने एक आरोप की जांच को लेकर लोकसभा सदस्य कार्ति चिदंबरम के खिलाफ एक नया मामला दर्ज किया है. अधिकारियों ने बताया कि कार्ति पर 2011 में 50 लाख रुपये की रिश्वत लेने के बाद चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाने का आरोप है. उस वक्त कार्ति के पिता पी चिदंबरम केंद्रीय गृह मंत्री थे. हुआ यूं कि पंजाब के मनसा स्थित तलवंडी साबो बिजली परियोजना के तहत 1980 मेगावाट का ताप बिजली संयंत्र स्थापित किया जाना था. संयंत्र स्थापित होने के दौरान इसे चीनी कंपनी को आउटसोर्स कर दिया गया. प्रोजेक्ट को समय से काफी पीछे कर दिया गया. देरी के कारण कार्रवाई से बचने के लिए मनसा ने ज्यादा से ज्यादा चीनी नागरिकों और प्रोफेशनलों को मनसा साइट पर लाने के लिए गृह मंत्रालय द्वारा निर्धारित सीमा से अधिक प्रोजेक्ट वीजा के लिए गृह मंत्रालय से सिफारिश की और इन चीनियों को वीजा मिल भी गया.

Tags: CBI, China, Karti Chidambaram, Visa

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर