होम /न्यूज /राष्ट्र /CBI में रार! नंबर-2 राकेश अस्‍थाना की गिरफ्तारी पर सोमवार तक रोक

CBI में रार! नंबर-2 राकेश अस्‍थाना की गिरफ्तारी पर सोमवार तक रोक

सीबीआई के स्‍पेशल डायरेक्‍टर राकेश अस्‍थाना. (File Photo: PTI)

सीबीआई के स्‍पेशल डायरेक्‍टर राकेश अस्‍थाना. (File Photo: PTI)

सीबीआई के स्‍पेशल डायरेक्‍टर राकेश अस्‍थाना ने कथित घूस मामले में अपने खिलाफ दायर एफआईआर के खिलाफ मंगलवार को दिल्ली उच् ...अधिक पढ़ें

    दिल्‍ली हाईकोर्ट ने सीबीआई के स्‍पेशल डायरेक्‍टर राकेश अस्‍थाना को अंतरिम राहत देते हुए अगली सुनवाई तक उनके खिलाफ कार्रवाई पर रोक लगा दी है. घूस मामले में अपने खिलाफ दायर एफआईआर के खिलाफ अस्थाना ने मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में अपील दायर की थी. वहीं सोमवार को गिरफ्तार किए गए डीएसपी देवेंद्र कुमार को कोर्ट ने सात दिन की रिमांड पर भेज दिया है.

    कोर्ट ने अस्‍थाना के खिलाफ शुरू की गई आपराधिक कार्रवाई में सीबीआई से यथास्थिति बनाए रखने को कहा है. हालांकि यह साफ कर दिया कि जांच पर किसी तरह ही कोई रोक नहीं है. जस्टिस नाज्‍मी वजीरी ने अस्‍थाना और डीएसपी देवेंद्र कुमार की एक अन्‍य याचिका पर सीबीआई, उसके निदेशक आलोक कुमार वर्मा और ज्‍वॉइंट डायरेक्‍टर एके शर्मा से जवाब भी मांगा है. कार्मिक विभाग को भी नोटिस जारी किया गया है. बता दें कि देवेंद्र कुमार को सीबीआई ने सोमवार को ही घूस के मामले में गिरफ्तार किया था.

    हाईकोर्ट ने अस्‍थाना और कुमार दोनों को मामले से जुड़े दस्‍तावेजों और मोबाइल रिकॉर्ड्स को सुरक्षित रखने को कहा है. मामले में अगली सुनवाई के लिए 29 अक्‍टूबर की तारीख मुकर्रर की गई. सुनवाई के दौरान सीबीआई ने कहा कि अस्‍थाना के खिलाफ लगे आरोप गंभीर हैं और एजेंसी मामले की जांच कर रही है. वह एफआईआर में बाकी आरोप भी जोड़ने जा रही हैं.

    अस्‍थाना के वकील अमरेंद्र शरण ने कहा कि यह सीबीआई के स्‍पेशल डायरेक्‍टर के खिलाफ एफआईआर अवैध है क्‍योंकि यह आरोपी के बयान के आधार पर दर्ज की गई है. इनमें आपराधिक षड़यंत्र और फिरौती की धाराएं शामिल हैं.

    Tags: Alok verma, CBI, Central Bureau of Investigation, DELHI HIGH COURT, Rakesh asthana

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें