Assembly Banner 2021

करोड़ों रुपये के कोयला चोरी मामला, CBI ने एक और कारोबारी से की पूछताछ

कोयला चोरी मामले में सीबीआई ने कारोबारी से की पूछताछ  (File Pic)

कोयला चोरी मामले में सीबीआई ने कारोबारी से की पूछताछ (File Pic)

कोयला की खरीद-बिक्री करने वाली कंपनी के निदेशक माझी गिरफ्तारी से बच रहे हैं. सीबीआई ने उनके खिलाफ लुक-आउट नोटिस भी जारी किया है.

  • Share this:
कोलकाता. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने करोड़ों रुपये के कोयला चोरी मामले की जांच के संबंध में बुधवार को एक कारोबारी से पूछताछ की. सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय एजेंसी की भ्रष्टाचार रोधी शाखा ने अपने कार्यालय में मनोज अग्रवाल से पूछताछ की.

सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के आसनसोल-रानीगंज क्षेत्र में कथित अवैध कोयला खनन के संबंध में 27 फरवरी को शहर के कारोबारी रणधीर कुमार बरनवाल से पूछताछ की थी. एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि सीबीआई मामले में मुख्य आरोपी अनूप माझी उर्फ लाला के करीबी सहयोगियों से पूछताछ कर रही है.

सीबीआई ने लुक-आउट नोटिस जारी किया
सीबीआई की भ्रष्टाचार रोधी शाखा ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में माझी से जुड़े लोगों के परिसरों पर छापेमारी की थी. एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि वह कोयला घोटाला में मुख्य आरोपी के साथ करीबी जुड़ाव वाले कारोबारियों पर पैनी नजर रख रही है. कोयला की खरीद-बिक्री करने वाली कंपनी के निदेशक माझी गिरफ्तारी से बच रहे हैं. सीबीआई ने उनके खिलाफ लुक-आउट नोटिस भी जारी किया है.
Youtube Video




ये भी पढ़ेंः- कौन है अनूप मांझी, जिसके अवैध 'कोयले की आंच' ममता बनर्जी के घर पहुंची

ये भी पढ़ेः- झारखंड: साइकिल पर फल-फूल रहा करोड़ों का काला कारोबार, 100 रुपये में मैनेज होती है पुलिस!

जांच एजेंसी ने माझी के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद पिछले साल 28 नवंबर को चार राज्यों पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और उत्तरप्रदेश में कई स्थानों पर तलाशी ली थी. सीबीआई की एक टीम 23 फरवरी को तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी के आवास पर गयी थी और मामले में उनकी पत्नी रुजिरा से पूछताछ की थी. इसी मामले में एजेंसी ने एक दिन पहले रुजिरा की बहन मेनका गंभीर से भी पूछताछ की थी. अभिषेक बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं.

कोल इंडिया का मुनाफा तीसरी तिमाही में 21 फीसदी घटा
सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी कोल इंडिया लिमिटेड (Coal India Limited) ने गुरुवार को वित्त वर्ष 2020-21 की 31 दिसंबर को समाप्त हुई तीसरी तिमाही के आंकड़े जारी कर दिए हैं. इस तिमाही में कंपनी के मुनाफे में सालाना आधार पर 21.4 फीसदी की गिरावट हुई है और यह 3,084.10 करोड़ रुपये पर रहा है. कोल इंडिया ने बताया कि इससे पिछले साल की समान अवधि में यह आंकड़ा 3,921.81 करोड़ रुपये था. दिसबंर तिमाही के दौरान कंपनी के आय में बढ़ोतरी दर्ज की गई है और यह 23,686 करोड़ रुपये पर रही है जो कि पिछले साल की तीसरी तिमाही में 23109 करोड़ रुपये पर रही थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज