लाइव टीवी

INX मीडिया केस: चार्जशीट में चिदंबरम के अलावा इन 14 अफसरों के नाम भी हैं शामिल

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: October 18, 2019, 7:35 PM IST
INX मीडिया केस: चार्जशीट में चिदंबरम के अलावा इन 14 अफसरों के नाम भी हैं शामिल
आईएनएक्स मीडिया केस में सीबीआई ने पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति समेत कुल 15 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर दी है.

सीबीआई (CBI) ने पी चिदंबरम (P Chidambaram) और कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) के अलावा नीति आयोग (NITI Ayog) की पूर्व सीईओ सिंधुश्री खुल्लर (Sindhushree Khullar) को भी चार्जशीट में आरोपी बनाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2019, 7:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईएनएक्स मीडिया केस (INX Media Case) में सीबीआई (CBI) ने देश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram), उनके बेटे कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) और उनके दो कंपनियों समेत कुल 15 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर दी है. सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को बताया है कि कि भ्रष्टाचार के इस मामले की जांच जारी है. लिहाजा पी चिदंबरम को अभी जमानत नहीं दी जाए.

सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि सिंगापुर एवं मॉरीशस से भी पी चिंदबरम के तार जुड़ रहे हैं लिहाजा थोड़ा इंतजार किया जाए. सुप्रीम कोर्ट ने पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. लेकिन, सीबीआई के चार्जशीट में वित्त मंत्रालय में तैनात उस समय के लगभग आधा दर्जन अधिकारियों के नाम भी शामिल हैं. इनमें से कई आईएएस अधिकारी अभी भी कई महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं.

कई IAS अधिकारियों नाम सीबीआई के चार्जशीट में है
सीबीआई ने पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम के अलावा नीति आयोग की पूर्व सीईओ सिंधुश्री खुल्लर को भी चार्जशीट में आरोपी बनाया है. सिंधुश्री खुल्लर आईएनएक्स मीडिया के मंजूरी मिलने के वक्त डिपार्टमेंट ऑफ इकनोमिक अफेयर्स में एडिशनल सेक्रेटरी के पद पर थीं.

नीति आयोग की पूर्व सीईओ सिंधुश्री खुल्लर को भी चार्जशीट में आरोपी बनाया है.
नीति आयोग की पूर्व सीईओ सिंधुश्री खुल्लर भी चार्जशीट में आरोपी.


इसके साथ सीबीआई ने वित्त मंत्रालय के Foreign Investment Promotion Board (FIPB) यूनिट में तब के डायरेक्टर रहे प्रबोध सक्सेना को भी चार्जशीट में आरोपी बनाया है. प्रबोध सक्सेना पी चिदंबरम के वित्त मंत्री रहते इस पद पर तैनात थे. फिलहाल सक्सेना हिमाचल प्रदेश सरकार में वित्त एवं ऊर्जा मंत्रालय के सचिव पद पर काम कर रहे हैं. पी चिदंबरम के वित्त मंत्री रहते उस समय के ज्वाइंट सेक्रेटरी अनूप पुजारी भी सीबीआई चार्जशीट में हैं. इनके साथ ही डिपार्टमेंट ऑफ इकॉनोमिक अफेयर्स में तब के अंडर सेक्रेटरी रहे आर प्रसाद को भी सीबीआई ने अपने चार्जशीट में नाम दिया है.

सभी अधिकारियों पर आपराधिक साजिश रचने का आरोप
Loading...

अजित कुमार डुंगडुंग उस समय के वित्त मंत्रालय में सेक्शन अफसर और प्रदीप बग्गा वित्त मंत्रालय में ओएसडी (OSD) रहे हैं, सीबीआई ने अपने चार्जशीट में उनका भी नाम शामिल किया है. सीबीआई ने इन सबके खिलाफ आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार निरोधक कानून और IPC की दूसरी धाराओं के तहत चार्जशीट दायर की है.

सीबीआई की चार्जशीट पर सुप्रीम कोर्ट 21 अक्टूबर को संज्ञान ले सकता है.
सीबीआई की चार्जशीट पर सुप्रीम कोर्ट 21 अक्टूबर को संज्ञान ले सकता है.


सीबीआई की चार्जशीट पर सुप्रीम कोर्ट 21 अक्टूबर को संज्ञान ले सकता है. सीबीआई के चार्जशीट के मुताबिक इन सभी अधिकारियों पर INX मीडिया को 307 करोड़ की विदेशी निवेश की मंजूरी देने की प्रक्रिया में शामिल होने का आरोप है.

15 मई, 2017 को यह मामला दर्ज किया गया था
कार्ति चिदंबरम की दो कंपनियों एडवांटेज स्ट्रैटेजिक कंसल्टेंसी प्राइवेट लिमिटेड की सिंगापुर यूनिट और चैस मैनेजमेंट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड को भी सीबीआई ने चार्जशीट में आरोपी बनाया है. इन कंपनियों के जरिये ही पैसे की लाउंड्रिंग किए जाने का आरोप है. साथ ही inx मीडिया को फेवर के बदले इंद्राणी और पीटर ने इन्हीं दो कंपनियों के नाम चेक दिया था.

बता दें कि 15 मई, 2017 को यह ईडी ने यह मामला दर्ज किया था. ईडी के द्वारा दर्ज केस में आईएनएक्स मीडिया पीवीटी लिमिटेड ने 4.62 करोड़ रुपये की स्वीकृत एफडीआई राशि के मुकाबले लगभग 403.07 करोड़ रुपये का विदेशी निवेश प्राप्त किए थे. जांच के दौरान पाया गया कि INX Media Pvt Ltd के निदेशक इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी, पी चिदंबरम, तत्कालीन वित्त मंत्री और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम सहित कई अधिकारी इसमें शामिल थे.

ये भी पढ़ें: 

दिवाली से पहले अरविंद केजरीवाल दिल्ली के 50 लाख कर्मचारियों को देंगे ये बड़ा गिफ्ट!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 18, 2019, 7:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...