CBI ने मुम्बई की जेल में इंद्राणी से की पूछताछ, INX मीडिया मामले में मांगा स्पष्टीकरण

सीबीआई अधिकारियों की एक टीम ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले (INX Media Case) में इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) से जेल में पूछताछ की.

भाषा
Updated: September 10, 2019, 11:19 PM IST
CBI ने मुम्बई की जेल में इंद्राणी से की पूछताछ, INX मीडिया मामले में मांगा स्पष्टीकरण
सीबीआई अधिकारियों की एक टीम ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले (INX Media Case) में इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) से जेल में पूछताछ की.
भाषा
Updated: September 10, 2019, 11:19 PM IST
नई दिल्ली. सीबीआई अधिकारियों की एक टीम ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले (INX Media Case) में इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) से जेल में पूछताछ की. इस मामले में पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी चिदंबरम (P Chidambaram) को गिरफ्तार किया गया है. इंद्राणी अपनी बेटी की कथित रूप से हत्या करने के लिए जेल में बंद है. यह जानकारी मंगलवार को सूत्रों ने दी.

सूत्रों ने बताया कि इंद्राणी से यह पूछताछ बायकुला जेल में लगभग एक घंटे चली. उन्होंने बताया कि एजेंसी को कंपनी द्वारा किए गए कुछ विदेशी लेनदेन के बारे में इंद्राणी से कुछ स्पष्टीकरण चाहिए था. एजेंसी ने आईएनएक्स समूह की कंपनियों के वित्तीय लेनदेन के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए पांच देशों को ‘अनुरोधपत्र’ भेजे थे.

उन्होंने बताया कि एजेंसी ने सोमवार को मुंबई की एक विशेष अदालत को बताया था कि जिन देशों को अनुरोधपत्र भेजे गए थे, उनमें से एक ने स्पष्टीकरण मांगा है जिसके लिए सीबीआई इंद्राणी से पूछताछ करना चाहती है.

सीबीआई के आरोप पत्र में था इंद्राणी का नाम

इंद्राणी का नाम सीबीआई के आरोपपत्र में था. इंद्राणी पर आरोप है कि उसने अपने दूसरे पति और ड्राइवर के साथ मिलकर अपनी बेटी शीना बोरा की कथित रूप से हत्या के लिए साजिश रची. इंद्राणी आईएनएक्स मीडिया मामले में सरकारी गवाह बन गई है जिसमें एजेंसी ने हाल ही में चिदंबरम को गिरफ्तार किया है.

आईएनएक्स मीडिया ने 2007 में निवेश के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी मांगी थी. आईएनएक्स मीडिया को इंद्राणी और उसके पति पीटर मुखर्जी ने प्रवर्तित किया था.

ये है आरोप
Loading...

आरोप है कि तत्कालीन वित्तमंत्री चिदंबरम और मंत्रालय के अधिकारियों द्वारा कंपनी में 305 करोड़ रुपये के निवेश की अनुमति देने के लिए नियमों का उल्लंघन किया गया था. मुंबई की एक विशेष सीबीआई अदालत ने केंद्रीय एजेंसी को जेल के अंदर इंद्राणी से पूछताछ करने की अनुमति दी थी.

इंद्राणी ने धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत अपना बयान दर्ज कराया था, जिसमें उसने दावा किया गया था कि वह और उसके पति ने चिदंबरम से दिल्ली के नार्थ ब्लॉक स्थित कार्यालय में मुलाकात की थी जब वह वित्तमंत्री थे. उसने अपने बयान में यह भी दावा किया है कि चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी देने के बदले में अपने बेटे कार्ति को उनके व्यवसाय में मदद करने के लिए कहा था. चिदंबरम ने आरोपों का दृढ़ता से खंडन किया है.

ये भी पढ़ें-
8 अक्टूबर को खुद फ्रांस जाकर राफेल जेट रिसीव करेंगे रक्षा मंत्री

कांग्रेस में ज्यादातर पदों पर हो चुनाव, तभी पार्टी को मिलेगी ऊर्जा: थरूर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 10:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...