कांग्रेस के 'संकटमोचक' डीके शिवकुमार के 15 ठिकानों पर CBI का छापा, 50 लाख रुपये बरामद

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार को कई लोग पार्टी के संकटमोचक की संज्ञा देते रहे हैं. (फाइल फोटो)
कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार को कई लोग पार्टी के संकटमोचक की संज्ञा देते रहे हैं. (फाइल फोटो)

सीबीआई (CBI) की टीमें बेंगलुरु में डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) और उनके भाई सांसद डीके सुरेश से जुड़ी 15 इमारतों पर सोमवार सुबह से छापेमारी कर रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2020, 12:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कर्नाटक (Karnataka) के कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) के कई ठिकानों पर केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो यानी सीबीआई की टीम ने सोमवार को छापेमारी की है. भ्रष्‍टाचार के एक कथित मामले में सीबीआई (CBI) डीके शिवकुमार के कर्नाटक और मुंबई समेत अन्‍य स्‍थानों पर मौजूद ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. बताया जा रहा है कि सीबीआई की टीमें बेंगलुरु में डीके शिवकुमार और उनके भाई सांसद डीके सुरेश से जुड़े 15 ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं. इनमें डोडालाहल्‍ली, कनकपुरा और सदाशिव नगर में स्थित उनके पुराने घरों पर भी की जा रही छापेमारी शामिल है.

कांग्रेस नेता शिवकुमार से संबंधित भ्रष्टाचार मामले में परिसरों की तलाशी के दौरान 50 लाख रुपये बरामद
नयी दिल्ली, पांच अक्टूबर (भाषा) सीबीआई ने कांग्रेस नेता डी के शिवकुमार से संबंधित भ्रष्टाचार के एक मामले में अनेक परिसरों की तलाशी ली और अब तक 50 लाख रुपये बरामद किए हैं. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. सीबीआई आय से अधिक संपत्ति जुटाने से जुड़े मामले में कर्नाटक, दिल्ली एवं महाराष्ट्र में 15 स्थानों पर तलाशी ले रही है. अधिकारियों ने कहा कि तलाशी अभियान दिन भर चल सकता है.

सीबीआई ने एक अन्य एजेंसी के सूत्र से मिली जानकारी के आधार पर कांग्रेस नेता के खिलाफ नया मामला दर्ज किया है. अधिकारियों के मुताबिक, यह सूचना शिवकुमार के कर्नाटक सरकार में मंत्री रहने के दौरान जुटाई गई संपत्तियों के बारे में है. सीबीआई की टीमों ने प्राथमिकी दर्ज होने के बाद सोमवार सुबह 15 स्थानों पर तलाशी शुरू की जिनमें नौ कर्नाटक में, चार दिल्ली में और एक मुंबई में हैं.
जानकारी के अनुसार, सीबीआई की ओर से डीके शिवकुमार और उनके भाई डीके सुरेश से जुड़ी इमारतों पर सोमवार सुबह 6 बजे से छापेमारी की जा रही है. दोनों के अलावा उनके करीब इकबाल हुसैन के ठिकानों पर भी छापेमारी चल रही है. वहीं सोमवार सुबह से शुरू हुई डीके शिवकुमार के ठिकानों पर छापेमारी की प्रक्रिया को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने बदले की राजनीति करार दिया. उन्‍होंने बीजेपी पर बदले की राजनीति करने के आरोप लगाए हैं.




सिद्धारमैया ने ट्वीट कर कहा, 'बीजेपी हमेशा बदले की राजनीति करने और लोगों को गुमराह करने का प्रयास करती रही है. डीके शिवकुमार के घर पर सीबीआई की छापेमारी उपचुनावों की हमारी तैयारियों पर अड़ंगा डालने के लिए की जा रही है. मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.'

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इसे बीजेपी सरकार के ‘छापा राज’ और ‘कुटिल कदम’ की संज्ञा दी. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मोदी-येदियुरप्पा के डराने धमकाने और कुचक्र के कपटपूर्ण खेल को कठपुतली सीबीआई द्वारा डी के शिवकुमार के परिसरों पर छापे मारकर अंजाम दिया जा रहा है, जिससे हम डरने वाले नहीं हैं। सीबीआई को येदियुरप्पा सरकार में भ्रष्टाचार की परतों को उजागर करना चाहिए. लेकिन ‘छापा राज’ ही उनका एकमात्र ‘कुटिल कदम’ है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज