लाइव टीवी

कोरोना वायरस की जानकारी के बहाने क्रेडिट कार्ड डिटेल चुरा रहे हैकर्स, CBI ने किया अलर्ट

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: May 19, 2020, 10:56 PM IST
कोरोना वायरस की जानकारी के बहाने क्रेडिट कार्ड डिटेल चुरा रहे हैकर्स, CBI ने किया अलर्ट
CBI ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ-साथ सेंट्रल एजेंसियों के लिए एक अलर्ट जारी किया है.

सीबीआई (CBI) ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान बैंकिंग फ्रॉड और क्रेडिट कार्ड के डेटा चुराने में इस्तेमाल किए जाने वाले सॉफ्टवेयर सरबेरस सॉफ्टवेयर (Cerberus) को लेकर यह अलर्ट जारी किया है. CBI ने कहा है कि कोविड-19 (Covid-19) से जुड़ी जानकारी मुहैया कराने की आड़ में हैकर्स लिंक भेजकर लोगों को क्रेडिट कार्ड से जुड़ी जानकारी चुराते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (CBI) ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ-साथ सेंट्रल एजेंसियों के लिए एक अलर्ट जारी किया है. सीबीआई ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान बैंकिंग फ्रॉड और क्रेडिट कार्ड के डेटा चुराने में इस्तेमाल किए जाने वाले सॉफ्टवेयर सरबेरस (cerberus) को लेकर यह अलर्ट जारी किया है. CBI ने कहा है कि कोविड-19 (Covid-19) से जुड़ी जानकारी मुहैया कराने की आड़ में हैकर्स लिंक भेजकर लोगों को क्रेडिट कार्ड से जुड़ी जानकारी चुरा ले रहे हैं.

इस सॉफ्टवेयर से हैकर्स मोबाइल से डाटा चुराते हैं
बता दें कि सरबेरस एक ऐसा सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है, जो दिखने में तो सही लगता है, लेकिन यदि इसे चलाया जाता है तो इसके नकारात्मक प्रभाव सामने आते हैं. इस प्रोग्राम का इस्तेमाल कर हैकर्स आपके मोबाइल का डाटा चुरा लेते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए सीबीआई ने Cerberus सॉफ्टवेयर को लेकर अलर्ट जारी किया है.

CBI, CBI alerts states about fishing software, COVID 19, Fishing Software in Smartphone, Smartphone Hack, hackers, CBI ALerts, Online Soft ware, सीबीआइ ने किया अलर्ट, फिशिंग सॉफ्टवेयर को लेकर सीबीआइ ने किया अलर्ट, स्मार्ट फोन वाले हो जाएं सावधान, interpol, banking phishing software, बैंकिंग धोखाधड़ी, ट्रोजन सॉफ्टवेयर, lockdown, coronavirus, interpol, central bureau investigation, सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन CBI warns states and central agencies about fishing software mobile virus cerberus inputs interpol nodrss
इस प्रोग्राम का इस्तेमाल कर हैकर्स आपके मोबाइल का डाटा चुरा लेते हैं.




अधिकारियों के अनुसार, सरबेरस नामक बैंकिंग ट्रोजन के माध्यम से कोविड-19 महामारी का फायदा उठाकर किसी उपयोगकर्ता को ऐसे लिंक डाउनलोड करने के लिए एसएमएस भेजे जाते हैं, जिनमें हैक करने वाले सॉफ्टवेयर हैं. मोडस ओपेरंडी के तहत SMS से भेजे गए लिंक को क्लिक करते ही ये सॉफ्टवेयर स्मार्ट फोन में install हो जाते हैं और सारी निजी जानकारी कॉपी करके लिंक को भेजने वाले आदमी को ट्रांसफर कर देता है.



गौरतलब है कि लॉकडाउन की वजह से इस समय स्मार्टफोन का इस्तेमाल काफी बढ़ गया है. लॉकडाउन के दौरान हर कोई अपना ट्रांजैक्शन मोबाइल के जरिए ही करना चाहता है. लेकिन, इसी बीच एक बड़ा खतरा यह है आपका फोन हैक भी हो सकता है. आईटी और साइबर एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस स्थिति के लिए आपको हमेशा अलर्ट रहना पड़ेगा.

CBI, CBI alerts states about fishing software, COVID 19, Fishing Software in Smartphone, Smartphone Hack, hackers, CBI ALerts, Online Soft ware, सीबीआइ ने किया अलर्ट, फिशिंग सॉफ्टवेयर को लेकर सीबीआइ ने किया अलर्ट, स्मार्ट फोन वाले हो जाएं सावधान, interpol, banking phishing software, बैंकिंग धोखाधड़ी, ट्रोजन सॉफ्टवेयर, lockdown, coronavirus, interpol, central bureau investigation, सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन CBI warns states and central agencies about fishing software mobile virus cerberus inputs interpol nodrss
लॉकडाउन की वजह से इस समय स्मार्टफोन का इस्तेमाल काफी बढ़ गया है.(प्रतीकात्मक तस्वीर)


एक्सपर्ट का क्या कहना है
देश के जाने-माने साइबर एक्सपर्ट (Cyber Expert) पवन दुग्गल (Pavan Duggal) के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान साइबर क्राइम बढ़ गए हैं. भारत ही नहीं दुनिया के कई देशों में इस तरह की शिकायतें मिल रही हैं. पहले भी हैकर्स इस तरह की वारदात को अंजाम देते थे, लेकिन बीते दो-तीन महीने से इसमें तेजी आ गई है. इसलिए हमें यह समझना होगा कि हमारा फोन हैक हो सकता है. मोबाइल फोन इस्तेमाल करते समय कुछ सावधानियां ही हमें इस समस्या से छुटकारा दिला सकता है. इसके लिए जो भी एप्लीकेशन आप डाउनलोड करते हैं, उसे सुरक्षित प्लेटफार्म से ही डाउनलोड करें.'

जानकारों का मानना है कि अगर आप किसी वेबसाइट से ऐप डाउनलोड करते हैं तो उस वेबसाइट के बारे में पूरी तरह जान लें. ऐप (Apps) डाउनलोड करने से पहले सभी टर्म एंड कंडीशन को समझ लें. अगर आप फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन करना चाहते हैं तो उसी वेबसाइट से करें जो https से शुरू होती है.

ये भी पढ़ें: UP के बाद दिल्ली में कांग्रेस ने केजरीवाल सरकार से मांगी 300 बसें चलाने की अनुमति

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 19, 2020, 9:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading