CBSE की 10वीं और 12वीं की जुलाई में होने वाली परीक्षाएं रद्द, पढ़ें इस फैसले की 5 बड़ी बातें

CBSE की 10वीं और 12वीं की जुलाई में होने वाली परीक्षाएं रद्द, पढ़ें इस फैसले की 5 बड़ी बातें
सीबीएसई

CBSE ने कहा है कि फिलहाल ये एग्जाम कराना संभव नहीं है. आइए एक नजर डालते हैं सीबीएस के इस फैसले की 5 बड़ी बातों पर...

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE ने  दसवीं और बारहवीं की 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है. कुछ स्टूडेंट्स के पेरेंट्स ने परीक्षा रद्द करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी लगाई थी. जिसके बाद कोर्ट ने सीबीएसई से पूछा था कि क्या परीक्षाएं रद्द की जा सकती हैं. अब सीबीएसई ने जवाब दिया है कि फिलहाल ये एग्जाम कराना संभव नहीं है. आइए एक नजर डालते हैं सीबीएसी के इस फैसले की 5 बड़ी बातों पर...

1. 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं. ऐसे में अब स्टूडेंट्स के पिछले तीन के एग्जाम के आधार पर उनका मूल्यांकन किया जाएगा.

2. अगर कोई स्टूडेंट पिछले 3 एग्जाम के आधार पर दिए गए नंबर से संतुष्ट नहीं होता है तो फिर वो अपना स्कोर बेहतर करने के लिए बाद में एग्जाम में बैठ सकता है.



3.  सीबीएसई बोर्ड कल यानी शुक्रवार को नोटिफिकेशन जारी करेगा. इसमें परीक्षा रद्द होने की सूरत में अंक देने और रिजल्ट जारी करने से संबंधित सभी जानकारी भी दी जाएगी.
4.  जिन विषयों की परीक्षाएं होनी थीं, उनमें छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर औसत अंक देकर प्रमोट किया जा सकता है.

5. सीबीएसई बोर्ड ने लॉकडाउन से पहले हो चुके पेपर की कॉपियों के मूल्यांकन का काम पहले ही शुरू कर दिया था. अब जबकि बची परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं तो माना जा रहा है कि बोर्ड जुलाई के अंत तक परिणाम की घोषणा कर देगा.

बता दें कि पिछले साल 12वीं की परीक्षा का रिजल्ट 2 मई को घोषित कर दिया गया था, जबकि दसवीं की परीक्षा के नतीजे 6 मई को आए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज